आप यहां हैं : होम » ख़बरें क्रिकेट की »

मेरे घर रांची को पहचान और स्वाभिमान मिला : धोनी

 
email
email
रांची: ांची के राजकुमार और भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने शुक्रवार को कहा कि उनके शहर में एक शानदार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनने से अब उनके रांची शहर को एक नई पहचान मिल गई है जो उनके लिए बड़े स्वाभिमान का दिन है।

झारखंड की राजधानी रांची में आज धुर्वा इलाके में ‘झारखंड राज्य क्रिकेट संघ अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम परिसर’ के उद्घाटन समारोह में अपने उद्गार व्यक्त करते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने कहा, ‘‘समस्त झारखंड राज्य के निवासियों और मेरे लिए यह जबर्दस्त गौरव का समय है। आज हमें एक विश्वस्तरीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम मिल गया है।’’

धोनी ने कहा, ‘‘मेरे घर रांची को एक नई पहचान मिल गई है। अब मुझे दुनिया में यह किसी को समझाना नहीं होगा कि रांची कहां है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब मैंने अपना क्रिकेट जीवन प्रारंभ किया था और विभिन्न देशों में जाता था तो दुनिया को यह समझाने में भारी कठिनाई होती थी कि रांची कहां है। लेकिन अब जबकि विश्व के श्रेष्ठतम स्टेडियमों में से एक स्टेडियम रांची के आसमान को छू रहा है, दुनिया को और खासकर क्रिकेट की दुनिया को रांची की पहचान बताने में कोई कठिनाई नहीं होगी।’’

पीले रंग की शर्ट और नीली जींस के साथ सफेद जैकेट डाले कार्यक्रम में पहुंचे भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी आज शाम बिलकुल तरोताजा और मस्ती के मूड में दिखे। हालांकि आज दोपहर स्टेडियम में नेट अभ्यास के दौरान असमान उछाल वाली अभ्यास पिच पर अचानक उठी गेंद से उनके अंगूठे में चोट लग गयी थी जिससे भारतीय खेमे और धोनी के प्रशंसकों में थोड़ी देर के लिए निराशा छा गई थी।

लोगों को लगा कि धोनी शायद अपने गृह मैदान में कल इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले पहले अंतरराष्ट्रीय एक-दिवसीय मैच में नहीं खेल पाएंगे। लेकिन कुछ देर बाद ही टीम प्रबंधन ने संवाददाता सम्मेलन कर संदेह के बादल दूर कर दिये और बता दिया कि धोनी को अंगूठे में मामूली चोट लगी थी जो बर्फ लगाने से ठीक हो गई।

धोनी ने झारखंड राज्य क्रिकेट संघ के इस स्टेडियम की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘हमारे साथियों ने पिछले दो दिनों में अभ्यास के दौरान बताया है कि यहां का स्टेडियम दुनिया के चुनिंदा सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट मैदानों में से एक है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह स्टेडियम जिस सलीके और सोच के साथ बनाया गया है उससे, इसके बीच खेलने के लिए पहुंचने पर जबर्दस्त अनुभव होता है।’’

धोनी ने कहा, ‘‘आज का दिन मेरे जीवन का बहुत ही खास दिन है क्योंकि कल मेरे गृह नगर में मेरी एक नयी पारी की शुरुआत होगी जब मैं अपने गृह मैदान में अपनी टीम के नेतृत्व का गौरव हासिल कर सकूंगा।’’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement