आप यहां हैं : होम » ख़बरें क्रिकेट की »

शतकवीर पुजारा ने फिर दिया भारत को सहारा, अश्विन का भी अर्द्धशतक

 
email
email
Mumbai Test: India vs England, India 266 for 6 at stumps
मुंबई: हली ही गेंद के साथ स्पिन लेने वाली विकेट की मांग करने वाले भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का शुक्रवार से शुरू हुए दूसरे टेस्ट मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला उस समय महंगा साबित होता हुआ नजर आया जब वानखेड़े स्टेडियम में इंग्लिश टीम ने 169 रनों के कुल योग पर ही उसके छह विकेट झटक लिए। लेकिन चेतेश्वर पुजारा और रविचंद्रन अश्विन ने सातवें विकेट के लिए 97 रनों की साझेदारी करके दिन की समाप्ति तक टीम को संतोषजनक स्थिति में पहुंचा दिया।

मौजूदा सीरीज में दूसरा और अपने करियर का तीसरा शतक लगाने वाले पुजारा (नाबाद 114) और अश्विन (नाबाद 60) की संघर्षपूर्ण अर्धशतकीय पारी की बदौलत भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी में छह विकेट पर 266 रन बना लिए।

पुजारा ने 279 गेंदों की पारी में 10 चौके लगाए जबकि उनकी अपेक्षा ज्यादा खुलकर खेल रहे अश्विन ने 84 गेंदों पर नौ चौके जड़े हैं। 248 गेंदों पर शतक पूरा करने वाले पुजारा ने अश्विन के साथ अब तक 97 रनों की साझेदारी की है।

अश्विन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के आउट होने के बाद विकेट पर आए थे। धोनी का विकेट 62वें ओवर में गिरा था। इसके बाद पुजारा और अश्विन ने अगले 29 ओवरों तक टीम को कोई और नुकसान नहीं होने दिया। इस बीच इंग्लिश टीम ने नई गेंद भी ली लेकिन उसे सफलता नहीं मिली।

धोनी का विकेट 169 रनों के कुल योग पर गिरा था। धोनी ने 62 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 29 रन बनाए। उन्होंने पुजारा के साथ छठे विकेट के लिए 50 रन जोड़े। धोनी मोंटी पनेसर की गेंद पर स्लिप में दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से कैच आउट हुए। यह विकेट चायकाल के तुरंत बाद गिरा।

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। भारत की ओर से वीरेंद्र सहवाग और गौतम गम्भीर ने पारी की शुरुआत की। कुल योग में अभी चार ही रन जुड़े थे कि मैच के दूसरी गेंद पर गम्भीर आउट होकर पवेलियन लौट गए।

गम्भीर को चार रन के निजी योग पर तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन की गेंद पर अम्पायर ने पगबाधा करार दिया। अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे सहवाग 30 रन के निजी योग पर स्पिनर मोंटी पनेसर की गेंद पर बोल्ड हो गए। सहवाग ने पुजारा के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 48 रन जोड़े।

इसके बाद अनुभवी सचिन तेंदुलकर को आठ रन के निजी योग पर पनेसर ने बोल्ड कर अपना दूसरा शिकार बनाया। विराट कोहली को 19 रन के निजी योग पर पनेसर ने निक कॉम्पटन के हाथों कैच कराया।

युवराज सिह के रूप में भारत का पांचवां विकेट गिरा, जिन्हें ग्रीम स्वान ने बोल्ड किया। युवराज खाता भी नहीं खोल सके। इंग्लैंड की ओर से पनेसर ने चार जबकि एंडरसन और ग्रीम स्वान ने एक-एक विकेट झटके हैं।

इस टेस्ट मैच के लिए भारत ने अपनी अंतिम एकादश टीम में एक परिवर्तन किया है। पीठ में तकलीफ की वजह से तेज गेंदबाज उमेश यादव की जगह अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिह को शामिल किया गया है। इस प्रकार भारतीय टीम तीन स्पिन गेंदबाजों के साथ इस मुकाबले में उतरी।

इंग्लैंड ने अपनी टीम में दो बदलाव किए। इयन बेल की जगह जॉनी बेयरस्टो और टिम ब्रेस्नन की जगह स्पिनर मोंटी पनेसर को अंतिम एकादश टीम में शामिल किया है।

उल्लेखनीय है कि अहमदाबाद में खेला गया सीरीज का पहला टेस्ट मैच भारत ने नौ विकेट से जीता था। चार मैचों की शृंखला में भारतीय टीम 1-0 से आगे है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement