आप यहां हैं : होम » ख़बरें क्रिकेट की »

सहानुभूति नहीं चाहिए, अब चुनौती का सामना करने का समय आ गया : गंभीर

 
email
email
नई दिल्ली: ौतम गंभीर ने अपने प्रशंसकों और शुभचिंतकों से आग्रह किया कि वे टेस्ट टीम से बाहर किए जाने पर उनसे ‘सहानुभूति’ नहीं जताएं क्योंकि वह राष्ट्रीय टीम में वापसी करने के लिए ‘चुनौती’ का सामना करने को तैयार हैं।

इस सलामी बल्लेबाज ने खुद के टीम से बाहर किए जाने के बाद ट्वीट किया, ‘‘कृपया मुझसे सहानुभूति मत रखिए।’’ वह ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ तीन दिवसीय अभ्यास मैच में भारत ‘ए’ टीम की अगुवाई करेंगे।

उन्होंने ट्विटर पर ‘हैंडल एट गौतमगंभीर’ पर लिखा, ‘‘मैं ट्रेनिंग करने और फिर भारत ‘ए’ के मैच के लिए तैयार हूं। दुखी मत हो, अब कुछ मजबूती दिखाने का समय आ गया है।’’ गंभीर ने जब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट शुरू किया था तो वह टीम इंडिया से अंदर बाहर होते रहते थे।

उन्होंने कहा, ‘‘बीते समय में भी मैं बाहर हो चुका हूं, यह कोई अलग बात नहीं है। इस चुनौती से लड़ूंगा।’’ कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान ने हालांकि अपने राज्य के खिलाड़ी शिखर धवन और मुरली विजय को टीम में शामिल किए जाने के लिए बधाई दी।

उन्होंने कहा, ‘‘विजय और शिखर के लिए बहुत खुश हूं।’’ गंभीर ने लिखा, ‘‘मैं हर कीमत पर भारत को जीतते हुए देखना चाहता हूं, मेरे साथ या मेरे बिना।’’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement