आप यहां हैं : होम » ख़बरें क्रिकेट की »

रसूल की घातक गेंदबाजी, ऑस्ट्रेलिया पारी 241 रनों पर सिमटी

 
email
email
चेन्नई: म्मू एवं कश्मीर के युवा तेज गेंदबाज परवेज रसूल (7/45) की घातक गेंदबाजी की बदौलत बोर्ड अध्यक्ष एकादश टीम ने स्थानीय गुरु नानक कॉलेज मैदान पर मंगलवार से शुरू हुए दो दिवसीय अभ्यास मैच के पहले दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलियाई टीम की पहली पारी को 241 रनों पर समेट दी।  

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम की पारी की शुरुआत एड कोवन और उस्मान ख्वाजा ने की। दोनों बल्लेबाजों ने संभलकर खेलना शुरू किया। दोनों के बीच 77 रनों की साझेदारी हुई।

सरबजीत लाड्डा ने ख्वाजा (32) को केदार जाधव के हाथों कैच करवाकर आस्ट्रेलियाई टीम को पहला झटका दिया। कोवन 109 रनों के कुल योग पर रसूल का पहला शिकार बनें। उन्होंने आठ चौके और एक छक्के  की मदद से सर्वाधिक 58 रन बनाए।

तीसरे नम्बर पर बल्लेबाजी करने आए मैथ्यू वेड भी रसूल की गेंद पर कैच दे बैठे। उन्होंने 35 रनों का योगदान दिया।

स्टीवन स्मिथ भी 41 रन बनाकर रसूल की गेंद पर मनदीप सिंह को कैच थमा बैठे। इसके बाद कोई भी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज जमकर नहीं खेल सका और एक-एक करके रसूल के आगे घूटने टेकते चले गए।

पीटर सिडल (22), मोइसिस हेनरिक्स (16), जेम्स पैटिंसन (9), जैकसन बर्ड एक रन बनाकर आउट हुए। ग्लेन मैक्सवेल और एस्टन अगार अपना खाता भी नहीं खोल सके। नाथन ल्योन 12 रनों पर नाबाद लौटे।

भारत की ओर से बुधवार को 24 साल के होने जा रहे रसूल ने सात बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया, जबकि लाड्डा ने दो और स्टुअर्ट बिन्नी ने एक सफलता हासिल की।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 
विज्जी और बनारस

मैंने अपनी ज़िंदगी में चंद राज्यों के ही शहर देखिए हैं। कहीं किसी शहर में क्रिकेटर की मूर्ति नहीं देखी। बनारस में देखी। विज्जी और बनारस। हमने कभी विज्जी के बहाने बनारस के बारे में सोचा ही नहीं था...

Advertisement