आप यहां हैं : होम » फिल्मी है »

मिस यूनिवर्स : अमेरिकी सुंदरी ने बाजी मारी, शिल्पा सिंह चूकीं

 
email
email
India's Shilpa Singh loses Miss Universe title
लास वेगास: ारत की शिल्पा सिंह बुधवार को मिस यूनिवर्स प्रतिस्पर्धा के अंतिम 10 प्रतिभागियों में जगह नहीं बना पाईं। इस प्रकार भारत का प्रतिनिधित्व कर रही 23-वर्षीय शिल्पा प्रतिस्पर्धा से बाहर हो गईं।

मिस यूनिवर्स प्रतिस्पर्धा 2012 का खिताब बुधवार को अमेरिका की ओलिविया कल्पो ने जीत लिया। इसके साथ ही देश में इस खिताब को पाने का 12 वर्षों का इंतजार और लंबा हो गया।  प्रतिस्पर्धा में फिलीपींस की जेनी टगोनन को फर्स्ट रनर अप चुना गया जबकि वेनेजुएला की इरेन ईसर तीसरे स्थान पर रहीं।

शिल्पा प्रतिस्पर्धा के अंतिम 16 प्रतिभागियों में जगह बनाने में कामयाब रहीं थीं, लेकिन प्रतिस्पर्धा के अगले दौर के लिए चुने जाने से वह चूक गईं। बिहार में जन्मी शिल्पा कंप्यूटर स्नातक हैं। वह फिलहाल इंफोसिस कंपनी में कार्यरत हैं।

उल्लेखनीय है कि मिस इंडिया यूनिवर्स प्रतियोगिता 'आई एम शी' की विजेता उत्तराखंड की उर्वशी राउतेला को प्रतियोगिता में न्यूनतम उम्र सीमा से कम पाए जाने के कारण खिताब की दावेदारी गंवानी पड़ी थी। इसके बाद शिल्पा का चयन मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए किया गया था।

लास वेगास में आयोजित समारोह में मिस यूनिवर्स प्रतिस्पर्धा 2012 का खिताब अमेरिका की ओलिविया कल्पो ने जीता। प्रतिस्पर्धा में फिलीपींस की जेनी टगोनन को फर्स्ट रनर अप चुना गया, जबकि वेनेजुएला की इरेन ईसर तीसरे स्थान पर रहीं।

मिस यूनिवर्स 2011 रहीं अंगोला की लीला लोपेज ने प्लानेट हॉलीवुड में आयोजित भव्य समारोह में ओलिविया को मिस यूनिवर्स का ताज पहनाया।

दुनियाभर की 89 सुंदरियों ने लास वेगास में आयोजित मिस यूनिवर्स प्रतिस्पर्धा में भाग लिया था। मशहूर अमेरिकी गायक की लो ग्रीन, वेनेजुएला के बेस बॉल चैंपियन पाबलो सैंडोवाल, जापान के मशहूर शेफ माशाहारू मोरीमोतो और अमेरिकी बीच वॉलीबॉल चैंपियन केरी वाल्स जेनिंग्स प्रतिस्पर्धा के निर्णायक मंडल में शामिल थे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 
बिहार : दो गिलास जूस के लिए दिए 35 हजार रुपये

पटना के गांधी मैदान के पास जूस का ठेला लगाने वाले राजू को दो गिलास जूस के लिए 35 हजार कीमत दी गई। दरअसल, यह रकम उन चोरों ने दी थी, जिन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के भाई साधु यादव के घर से 70 लाख रुपये चोरी किए थे।

Advertisement