आप यहां हैं : होम » देश से »

दिल्ली गैंगरेप केस फास्ट-ट्रैक कोर्ट को सौंपा गया

 
email
email
Delhi gangrape case committed to fast-track court
नई दिल्ली: िल्ली में चलती बस में 23-वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार और उसकी निर्मम हत्या के मामले को फास्ट-ट्रैक कोर्ट में भेज दिया गया है, जहां अगली सुनवाई 21 जनवरी को होगी।

इस बीच, गिरफ्तार छह आरोपियों में से एक राम सिंह, मामले की सुनवाई दिल्ली से बाहर कराए जाने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने का विचार कर रहा है। राम सिंह के वकील वीके आनंद ने कहा कि वह सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करेंगे, क्योंकि उन्हें लगता है कि उनके मुवक्किल के लिए दिल्ली में सही सुनवाई संभव नहीं है।

आनंद ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस उनके मुवक्किल को लेकर पक्षपात कर रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले की सुनवाई उत्तर प्रदेश (जहां की पीड़ित थी) को छोड़कर देश में कहीं भी कराई जाए। इससे पहले, एक अन्य आरोपी मुकेश के वकील ने आरोप लगाया था कि पुलिस जेल में आरोपियों को शारीरिक प्रताड़ना दे रही है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 
भारत पहले से ही हिन्दू राष्ट्र : गोवा के उप-मुख्यमंत्री

उपमुख्यमंत्री ने अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगी दीपक धवलीकर की उस टिप्पणी का बचाव किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि मोदी देश को हिन्दू राष्ट्र बना सकते हैं।

Advertisement