आप यहां हैं : होम » देश से »

मोदी के खिलाफ लिखे लेख पर काटजू और जेटली हुए आमने-सामने

 
email
email
Justice Markandey Katju says, Arun Jaitley should quit
नई दि्ल्ली: ्रेस काउंसिल के अध्यक्ष मार्कंडेय काटजू ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली द्वारा उनके इस्तीफे की मांग पर पलटवार करते हुए कहा है कि राज्यसभा में विपक्ष के नेता अरुण जेटली को इस्तीफा दे देना चाहिए, क्योंकि वह 'राजनीति के लिए अयोग्य' हैं।

जेटली ने बीजेपी की बेवसाइट पर गैर-कांग्रेसी राज्यों पर काटजू के लगातार निशाना साधते रहने के बारे में लिखा कि ऐसा लगता है कि काटजू रिटायरमेंट के बाद नौकरी देने वालों का धन्यवाद दे रहे हैं। जेटली ने कहा कि कि चाहे पश्चिम बंगाल, बिहार या गुजरात की गैर-कांग्रेसी सरकार हो काटजू हमेशा इनके बारे में अंगुली उठाते रहे हैं। जेटली ने कहा कि ये किसी कांग्रेसी नेता से भी ज्यादा कांग्रेसी है।

इधर, काटजू ने जेटली पर टिप्पणी करते हुए कहा कि बीजेपी नेता ने आधा सच ही सामने रखा है और वह निजी हमले को लेकर काफी नीचे उतर आए हैं। काटजू ने कहा, जब फेसबुक प्रकरण को लेकर दो लड़कियों की गिरफ्तारी हुई थी, तब मैंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की भी आलोचना की थी। मैंने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी उस वक्त नोटिस जारी किया, जब उन्होंने एक मीडियाकर्मी के कैमरा तोड़ने की धमकी दी थी। इसलिए मैंने कांग्रेसी सरकार की भी आलोचना की है।

ताजा विवाद गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में एक अंग्रेजी दैनिक में जस्टिस मार्कंडेय काटजू के लिखे लेख के बाद पैदा हुआ। काटजू ने लेख में नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए देश के लोगों से अपील की है कि वे सोच-समझकर प्रधानमंत्री चुनें।  जेटली ने कहा कि काटजू का बयान पूर्वाग्रह से ग्रसित है।

उल्लेखनीय है कि काटजू ने हाल ही में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी हमला करते हुए कहा था कि बिहार में प्रेस की आजादी नहीं है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement