आप यहां हैं : होम » देश से »

विरोध-पत्र सीएम को देने जा रहे मनीष सिसोदिया को पुलिस ने रोका

 
email
email
Kejriwal continues hunger strike, team to submit Virodh-patra

PLAYClick to Expand & Play

नई दिल्ली: दिनों से बिजली और पानी के बढ़ते दामों के ख़िलाफ़ अनशन कर रहे अरविंद केजरीवाल ने अपने अनशन स्थल से ही मीडिया को संबोधित किया। केजरीवाल ने कड़े शब्दों में लोगों से कहा कि आप मेरे या अपने बारे में ना सोचें, आपके पास जो कुछ भी है उसे देश के लिए बलिदान कर दें।

10 दिनों से बिजली और पानी के बढ़ते दामों के ख़िलाफ़ आंदोलन कर रहे आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को दिल्ली के भैरों रोड पर रोक दिया गया है। मनीष सिसोदिया की अगुवाई में आठ लाख लोगों के विरोध पत्र लेकर ये कार्यकर्ता दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित से मिलने के लिए निकले हैं।

ये आठ लाख चिट्ठियां 272 ऑटो में भरकर ले जाई जा रही हैं। हालांकि मनीष सिसोदिया और उनके समर्थकों को मुख्यमंत्री से मिलने की इजाज़त नहीं मिली है। लेकिन पुलिस 272 लोगों को शीला दीक्षित के घर तक ले जाने के लिए तैयार हो गई है। इसके बाद केजरीवाल के समर्थक जैसे ही आगे बढ़ पुलिस ने कुछ समर्थकों को हिरासत में ले लिया है।

कहा जा रहा है कि अपनी मुलाकात के दौरान सिसौदिया दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों से लोगों से भरवाए गए करीब सात लाख विरोध-पत्र मुख्यमंत्री को देंगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement