आप यहां हैं : होम » देश से »

महाराष्ट्र में सिंचाई परियोजना के ठेके में कई नेताओं ने ली घूस?

 
email
email
Maharashtra leaders pocketed crores in kickbacks?
नई दिल्ली: ्या महाराष्ट्र के कथित सिंचाई घोटाले में कई नेताओं को एक कंस्ट्रकशन कंपनी की ओर से 43 करोड़ रुपये की घूस दी गई? सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर ने इन आरोपों को पुख्ता करने के लिए कहा कि यह सब लेनदेन आयकर विभाग की ओर से इस कंपनी पर की गई छापेमारी के दौरान जब्त की गई एक डायरी में मौजूद है।

पाटकर के मुताबिक घूस का यह पैसा महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार, कांग्रेस नेता सुनील देशमुख, बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी और बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे को दिया गया है।

पाटकर ने मांग की है कि उनके आरोपों की जांच के लिए एक कमिशन का गठन किया जाए। पाटकर ने कहा कि मामले में जो भी जांच चल रही है, वह सही तरह से नहीं चल रही है और अहम बातों को जांच में छोड़ा जा रहा है। पाटकर के इन आरोपों को अजित पवार, कांग्रेस और बीजेपी तीनों ने ही खारिज किया है।

मेधा पाटकर के आरोपों को बीजेपी के नेता गोपीनाथ मुंडे ने सिरे से नकार दिया है। मुंडे के प्रवक्ता के मुताबिक पाटकर के आरोप पूरी तरह से आधारहीन हैं। उन्होंने कहा कि जिस कंपनी और कॉन्ट्रैक्टर का मेधा पाटकर ने जिक्र किया है, गोपीनाथ मुंडे न तो उन्हें जानते है और न ही कभी उनसे मिले हैं। मुंडे के साथ उनकी पार्टी भी खड़ी है। पार्टी के प्रवक्ता माधव भंडारी ने कहा कि पाटकर की ओर से उनके नेता पर लगाए गए आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 
खत्म हो जाएगा पेट्रोल संकट, गन्ने के रस से चलेंगी गाड़ियां

शर्करा तकनीकी विशेषज्ञ एनके शुक्ला के मुताबिक गन्ने के रस से बना एथेनॉल ऊर्जा के अन्य साधनों से सस्ता है। उन्होंने बताया कि नागपुर व मुंबई में एथेनॉल से चलने वाली तीन बसें आ चुकी हैं।

Advertisement