आप यहां हैं : होम » देश से »

महिलाओं पर 'भद्दी' टिप्पणी के लिए राष्ट्रपति के बेटे ने मांगी माफी

 
email
email
President's son apologises for remarks on 'dented & painted' women
नई दिल्ली: िल्ली में गैंगरेप के खिलाफ देश भर में चल रहे प्रदर्शनों के बीच राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी की टिप्पणी ने महिला प्रदर्शनकारियों पर दी गई अपनी टिप्पणी पर माफी मांगी है।

जांगीपुर से पहली बार सांसद बने अभिजीत मुखर्जी ने कहा था कि ये खूबसूरत लड़कियां मेकअप करके विरोध करने पहुंचती हैं, इंटरव्यू देती हैं और फिर डिस्कोथेक चली जाती हैं। उन्होंने कहा कि उनको इस बात पर शक है कि इनमें से ज्यादातर छात्रा हैं।

हालांकि बाद में उन्होंने कहा कि उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है। एनडीटीवी से बातचीत में अभिजीत ने कहा कि यदि उन्होंने किसी की भावनाओं को आहत किया है, तो वह बिना शर्त माफी मांगते हैं।

उधर, अभिजीत की बहन शर्मिष्ठा ने भी एनडीटीवी से कहा, अगर उन्होंने (अभिजीत) ऐसा कहा है, तो वह उनकी तरफ से माफी मांगती हैं। एक परिवार के नाते हम उनकी टिप्पणी से सहमत नहीं हैं।

इस बीच, अभिजीत मुखर्जी के इस बयान पर तीखी प्रतिक्रियाएं आईं। टि्वटर पर संदेशों की झड़ी लग गई। किरण बेदी ने लिखा, राष्ट्रपति के बेटे का कहना है कि फैशन करने वाली और डिस्को जाने वाली लड़कियां कैंडल मार्च कर रही हैं, उनके साथ क्या परेशानी है, उन्हें दोबारा पढ़ाई की जरूरत है। फरहान अख्तर ने लिखा, राष्ट्रपति के बेटे अभिजीत मुखर्जी कहते हैं छात्राओं को मेकअप नहीं करना चाहिए, डिस्को नहीं जाना चाहिए। हद है।

उल्लेखनीय है कि प्रणब मुखर्जी के राष्ट्रपति बनने के बाद खाली हुई जांगीपुर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में अभिजीत ने मामूली अंतर से जीत हासिल की थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement