आप यहां हैं : होम » देश से »

शिंदे ने बयान पर दी सफाई, 'मैंने तो मजाक किया था...!'

 
email
email
Suhsil Kumar Shinde clarifies on his statement over coal-gate

PLAYClick to Expand & Play

नई दिल्ली / पुणे: ीखी राजनीतिक प्रतिक्रियाओं के बाद गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे कोयला घोटाले पर दिए अपने बयान पर अब सफाई दे रहे हैं। शिंदे ने कहा है कि उन्होंने तो मजाक में ऐसा कहा था।

दूसरी ओर, बीजेपी ने शिंदे के बयान की आलोचना करते हुए कहा कि जनता को सब याद रहता है। आगामी चुनावों में जनता सबक सिखा देगी।

दरअसल सुशील कुमार शिंदे ने कहा था कि बोफोर्स विवाद की तरह ही लोग कोयला आवंटन में गड़बड़ी के मामले को भी भूल जाएंगे। शिंदे ने यह बयान पुणे में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दिया था।

जब पत्रकारों ने उनसे इस मामले में सवाल किए तो शिंदे ने कहा कि लोगों को याद भी नहीं होगा कि एनडीए सरकार के दौरान पेट्रोल पंप आवंटन में कितना बड़ा घोटाला हुआ था।

शिंदे के इस बयान के बाद विपक्षी दलों ने काफी तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की थी और कहा कि कांग्रेस को यह याद रखना चाहिए कि बोफोर्स घोटाले के सामने आने के बाद कांग्रेस की चुनाव में क्या हालत हुई थी। बीजेपी नेता राजनाथ सिंह ने कहा कि शिंदे का यह बयान गैर-जिम्मेदाराना  है और जनता की याददाश्त कमज़ोर नहीं है, उसे सभी घोटाले अच्छी तरह याद हैं।

शिंदे के इस बयान पर जेडीयू नेता शरद यादव ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि शिंदे को अपने मंत्रालय का काम देखना चाहिए और उन्हें बयानबाजी से बचना चाहिए। वहीं इस मुद्दे पर लेफ्ट के नेता डी राजा ने कहा कि बोफोर्स घोटाले के बाद से कांग्रेस कभी भी बहुमत नहीं ला पाई है और उसे लगातार नुकसान ही हुआ है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 
कुछ आईआईटी स्नातक अपने प्रोफेसरों से भी ज्यादा स्मार्ट हैं : वैज्ञानिक राव

युवा आईआईटी छात्रों की प्रतिभा की सराहना करते हुए प्रख्यात वैज्ञानिक सी एन आर राव ने शनिवार को कहा कि कुछ आईआईटी स्नातक तो अपने प्रोफेसरों से भी ज्यादा स्मार्ट हैं।

Advertisement