आप यहां हैं : होम » देश से »

ईमानदार पार्टी और ईमानदार नेता ही बदल सकता है उप्र की तस्वीर : वरुण

 
email
email
Varun Gandhi's rally in Uttar Pradesh marks growing stature in BJP
लखनऊ / बरेली: ारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव वरुण गांधी ने बरेली में आयोजित पार्टी की स्वाभिमान रैली में विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। वरुण ने कहा कि ईमानदार पार्टी और ईमानदार नेता ही उप्र की तस्वीर बदल सकता है।

वरुण ने अनाज मंडी मैदान में हजारों समर्थकों को सम्बोधित करते हुए कहा, उप्र में मायावती और मुलायम के शासनकाल में सुव्यवस्थित तरीके से भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलता है। हम लोग एक या दो लाख करोड़ रुपये के घोटाले का जिक्र करते हैं, लेकिन ध्यान देने लायक बात यह है कि यह महज आंकड़े नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि इन पैसों से लाखों स्कूल खोले जा सकते थे और लाखों नौजवानों को रोजगार मुहैया कराया जा सकता था।

ज्ञात हो कि वरुण गांधी को हाल में राजनाथ की नई टीम में राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया था, इसके बाद से ही ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि भाजपा उप्र में वरुण को एक मजबूत हथियार के तौर पर इस्तेमाल करने का रोडमैप तैयार कर चुकी है। इस बीच अटकलें यह भी हैं कि वरुण गांधी को पार्टी इस बार सुल्तानपुर संसदीय सीट से चुनाव लड़ाने का मन बना चुकी है। बरेली में इस रैली के बाद अब वरुण 4 मई को लखनऊ में धरने पर बैठेंगे।

इससे पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने बुधवार को राज्य सरकार पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि सूबे में जब कभी भी समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सरकार बनती है, तो उप्र में गुंडई बढ़ जाती है।

बरेली के अनाजमंडी मैदान में आयोजित स्वाभिमान रैली में जुटी हजारों की भीड़ को सम्बोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने यह बातें कहीं।

राजनाथ ने कहा कि सूबे में कानून की स्थिति बदहाल हो गई है। सूबे में सपा और बसपा की सरकार बनने पर गुंडों की मौज हो जाती है।

राजनाथ ने कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो के डर से सपा और बसपा केंद्र को समर्थन दे रहे हैं। सपा और बसपा को इस डर से बाहर निकलना होगा।

उल्लेखनीय कि भाजपा की ओर से आयोजित स्वाभिमान रैली में राष्टीय अध्यक्ष के अलावा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी और पार्टी के महासचिव वरूण गांधी भी मौजूद थे। इस दौरान सपा नेता धर्मेंद्र कष्यप ने सैकड़ों समर्थकों के साथ भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

सूबे में गिरती कानून व्यवस्था, महिला उत्पीड़न और गन्ना किसानों के बकाए के मुददे  को लेकर भाजपा की ओर से यह रैली आयोजित की गई थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement