आप यहां हैं : होम » देश से »

यूपी : बलात्कार पीड़िता का अपमान करने वाले एएसपी से स्पष्टीकरण तलब

 
email
email

PLAYClick to Expand & Play

लखनऊ: एसपी केशव चंद्र गोस्वामी द्वारा शिकायत दर्ज कराने की गुहार लेकर गई दुष्कर्म पीड़ित महिला का अपमान करने के मामले पर खेद जताते हुए एएसपी से स्पष्टीकारण मांगा है।

उत्तर प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) राम कुमार विश्वकर्मा ने संवाददाताओं से कहा कि एएसपी की टिप्पणी को कतई उचित नहीं ठहराया जा सकता है। हम पुलिस विभाग की तरफ  से इसके लिए माफी मांगते हैं।

उन्होंने कहा कि पुलिस महानिदेशक एएसपी गोस्वामी से दो दिन के अंदर स्पष्टीकरण देने के आदेश दिए हैं। उसके बाद आगे की कार्रवाई होगी।
 
विश्वकर्मा ने कहा कि पीड़ित महिला की शिकायत पर दुष्कर्म के आरोपी के खिलाफ  मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी गई है।

गौरतलब है कि देवरिया जिले के बनकटा थाना क्षेत्र के दलनछपरा गांव में अधेड़ महिला के साथ दो दिन पहले एक व्यक्ति ने कथित रूप से दुष्कर्म करने के बाद जान से मारने की कोशिश की।

शिकायत लेकर बनकटा थाने में पहुंची महिला ने सुनवाई न होने के बाद गुरुवार शाम को एएसपी गोस्वामी के पास मुकदमा दर्ज कराने की फरियाद लगाई।

एएसपी ने इंसाफ  की गुहार लगाने आई महिला को न्याय दिलाने में मदद के बजाय उसका अपमान किया। एएसपी गोस्वामी ने पीड़ित महिला के बच्चों की उम्र पूछने के बाद कहा कि इतनी उम्रदराज महिला के साथ कौन दुष्कर्म करेगा।

मीडिया के कैमरों में कैद एएसपी के बयान के आज प्रसारित होने पर मामले ने तूल पकड़ लिया। भारतीय जनता पार्टी नेता कलराज मिश्रा ने एएसपी को बर्खास्त कर उनके खिलाफ  मुकदमा दर्ज करने की मांग की तो बहुजन समाज पार्टी नेता सुधींद्र भदौरिया ने भी एएसपी पर कड़ी कार्रवाई की मांग की।

इससे पहले खबर थी कि उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) पर शिकायत दर्ज कराने गई दुष्कर्म पीड़ित महिला का अपमान करने का मामला सामने आया है। विपक्षी दलों ने एएसपी पर कारवाई की मांग की है।

जिले के बनकटा थाना क्षेत्र के दलनछपरा गांव में अधेड़ महिला के साथ दो दिन पहले एक व्यक्ति ने कथित रूप से दुष्कर्म करने के बाद जान से मारने की कोशिश की।

शिकायत लेकर बनकटा थाने में पहुंची महिला ने सुनवाई न होने के बाद बुधवार शाम को एएसपी केशव चंद्र गोस्वामी के पास मुकदमा दर्ज कराने की फरियाद लगाई।

एएसपी ने इंसाफ की गुहार लगाने आई महिला को न्याय दिलाने में मदद के बजाय उसका अपमान किया। एएसपी गोस्वामी ने पीड़ित महिला के बच्चों की उम्र पूछने के बाद कहा कि इतनी उम्रदराज महिला के साथ कौन दुष्कर्म करेगा। मीडिया के कैमरों में कैद एएसपी के बयान के गुरुवार को प्रसारित होने पर मामले ने तूल पकड़ लिया। माना जा रहा है कि शाम तक सरकार की तरफ  से एएसपी खिलाफ कोई कार्रवाई हो सकती है।

भारतीय जनता पार्टी नेता कलराज मिश्रा ने एएसपी को बर्खास्त कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। बहुजन समाज पार्टी नेता सुधींद्र भदौरिया ने भी एएसपी पर कड़ी कारवाई की मांग की है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement