आप यहां हैं : होम » देश से »

दुनिया का सबसे छोटा बॉडी बिल्डर आदित्य नहीं रहा

 
email
email
World's smallest bodybuilder Adtiya is no more
जालंधर: ुनिया का सबसे छोटा बॉडी बिल्डर आदित्य देव उर्फ़ रोमियो अब इस दुनिया में नहीं रहा। जालंधर के एक निजी अस्पताल में ब्रेन हैमरेज से रोमियो की मौत हो गई।

रोमियो की मौत की खबर सुनते ही उसके प्रशंसको में गम की लहर दौड़ गई है। गुरुवार की शाम रोमियो के शव का अंतिम संस्कार फगवाड़ा में किया गया।

सिर्फ दो फुट नो इंच कद के मालिक आदित्य देव उर्फ़ रोमियो को दुनिया में सबसे छोटे कद के बॉडी बिल्डर के रूप में जाना जाता था। अपने छोटे से शरीर को आकर्षक बनाने के लिए नौ किलो वजन का मालिक रोमियो हर रोज डेढ़ किलो के डम्बल से व्यायाम करता था।

साल 2006 में रोमियो का नाम दुनिया के सबसे छोटे बॉडी बिल्डर के रूप में लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में अंकित किया गया था। एक बॉडी बिल्डर होने के अलावा रोमियो को बहुत बड़े डांसर के रूप में भी जाना जाता था। रोमियो ने देश-विदेश की कई टीवी चैनलों पर अपनी डांस और बॉडी बिल्डिंग प्रतिभा का लोहा मनवाया था।

रोमियो की जिंदगी पर ब्रिटेन में फिल्म का भी निर्माण किया गया था, जिसकी शूटिंग अमेरिका में की गई थी। बुधवार को ब्रेन हैमरेज होने के बाद रोमियो को जालंधर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, लेकिन डॉक्टर उसकी जिंदगी नहीं बचा सके।

गुरुवार को सुबह डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सिर्फ तेईस साल के रोमियो की इस असमय मौत के बारे में सुनकर उसके प्रशंसक भी हक्के-बक्के रह गए रोमियो के घर शोक जताने के लिए उसके प्रशंसको का तांता लग गया था।

रोमियो के परिजनों पर भी उसकी अचानक मौत से दुःख का पहाड़ टूट गया। अपनी छोटी सी जिंदगी और छोटे कद के बावजूद रोमियो ने ना सिर्फ अपना और अपने परिवार का बल्कि पूरे भारत का नाम दुनिया में रोशन किया। छोटे कद के बॉडी बिल्डर के रूप में रोमियो को हमेशा याद किया जाता रहेगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 
खत्म हो जाएगा पेट्रोल संकट, गन्ने के रस से चलेंगी गाड़ियां

शर्करा तकनीकी विशेषज्ञ एनके शुक्ला के मुताबिक गन्ने के रस से बना एथेनॉल ऊर्जा के अन्य साधनों से सस्ता है। उन्होंने बताया कि नागपुर व मुंबई में एथेनॉल से चलने वाली तीन बसें आ चुकी हैं।

Advertisement