आप यहां हैं : होम » खेल-खिलाड़ी »

ऑस्ट्रेलियन ओपन : ली ना और शरापोवा सेमीफाइनल में, भूपति-पेत्रोवा अंतिम-8 में

 
email
email
Mahesh Bhupathi-Nadia Petrova sweat for quarterfinal berth
मेलबर्न: ारत के दिग्गज टेनिस स्टार महेश भूपति और उनकी रूसी जोड़ीदार नादिया पेत्रोवा ने साल के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन के मिश्रित युगल मुकाबलों के अंतिम-8 में जगह बना ली है। महिला एकल में रूस की मारिया शारापोवा और चीन की ली ना भी सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रही हैं।

ली ना तीसरी बार मेलबर्न पार्क में सेमीफाइनल में पहुंची हैं। पुरुष एकल में स्पेन के डेविड फेरर अपने ही देश के निकोलस अल्माग्रो को हराकर अंतिम-4 में पहुंचने में सफल रहे हैं।

भूपति और पेत्रोवा की पांचवीं वरीय जोड़ी ने मंगलवार को खेले गए दूसरे दौर के मुकाबले में स्लोवाकिया की कैटरीना श्रेबोतनिक और सर्बिया के नेनाद जिमोनजिक को 3-6, 6-2, 10-5 से हराया।

भूपति और पेत्रोवा का क्वार्टर फाइनल में सामना लिएंडर पेस और एलेना वेस्नीना तथा जर्मिला गाजदोसोवा और मैथ्यू एबदेन के बीच होने वाले मुकाबले के विजेता से होगा।

भारत की सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना अपने-अपने जोड़ीदारों के साथ सोमवार को ही क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहे थे।

महिला एकल में पूर्व फ्रेंच ओपन चैम्पियन ली ना ने चौथी वरीय पोलैंड की एगनिस्का रादवांस्का को सीधे सेटों में हरा दिया।

टूर्नामेंट में छठी वरीय चीन की ली ना ने रादवांस्का को 7-5, 6-3 से हरा दिया। ली ने रादवांस्का का 13 मैचों से चला आ रहा विजय रथ रोक दिया।

मैच के बाद ली ना ने कहा, "रादवांस्का कठिन खिलाड़ी हैं। मैं एक दीवार के खिलाफ खेलते हुए महसूस कर रही थी। वह गेंद को कोर्ट के हर कोने में मार रही थीं। मुझे तालमेल बनाने में काफी कठिनाई हो रही थी। मुझे हर शॉट पर बहुत केंद्रित होना पड़ रहा था।"

सेमीफाइनल में उनका मुकाबला टूर्नामेंट की दूसरी वरीय रूसी खिलाड़ी मारिया शारापोवा से होगा। शारापोवा ने क्वार्टर फाइनल में रूस की एकातेरिना माकारोवा को सीधे सेटों में 6-2, 6-2 से हराया।

ली ना ने पहला सेट 66 मिनट में अपने नाम किया। दूसरे में 0-2 से पिछड़ने के बाद ली ना ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए लगातार पांच गेमों में जीत दर्ज की। यह क्वार्टर फाइनल मुकाबला एक घंटा 42 मिनट तक चला।

गौरतलब है कि वर्ष 2011 में ली ना को फाइनल मुकाबले में किम क्लिस्टर्स के हाथों हार का समाना करना पड़ा था। वह 2010 में भी मेलबर्न पार्क में सेमीफाइनल में पहुंची थीं। इसके बाद ली ने फ्रेंच ओपन के साथ पहली ग्रैंड स्लैम सफलता हासिल की थी।

स्पेन के दिग्गज खिलाड़ी फेरर ने सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए अल्माग्रो को कड़े मुकाबले के बाद 4-6, 4-6, 7-5, 7-6(4), 6-2 से हराया। टूर्नामेंट में फेरर को चौथी और अल्माग्रो को 10वीं वरीयता मिली है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement