आप यहां हैं : होम » दुनिया से »

बोस्टन धमाकों का एक संदिग्ध मारा गया, दूसरे की तलाश जारी

 
email
email
बोस्टन: मेरिकी संघीय जांच एजेंसी (एफबीआई) द्वारा बोस्टन में हुए धमाकों से जुड़े दो संदिग्धों की तस्वीरें और वीडियो जारी करने के बाद पुलिस ने मुठभेड़ में एक संदिग्ध को मार गिराया है। दूसरा संदिग्ध मौके से भाग गया और उसकी तलाश जारी है।

मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) में एक पुलिस अफसर की गोली मारकर हत्या के बाद यह तलाशी अभियान शुरू हुआ था। पहला संदिग्ध एमआईटी के उत्तर में वाटरटाउन जिले में पकड़ा गया। उसे पकड़ने के लिए पुलिस को गोलाबारी करनी पड़ी, जिसमें वह बुरी तरह घायल हो गया और बाद में उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने पूरे कैंपस की तलाशी ली, जिसके बाद कैंपस को सुरक्षित करार दे दिया गया। पुलिस के मुताबिक दूसरा आरोपी वहां से भाग निकलने में कामयाब हो गया। इस बात की भी आशंका जताई जा रही है कि उसके पास बड़ी मात्रा में हथियार या विस्फोटक हो सकते हैं, लिहाजा लोगों से चौकस और सतर्क रहने की सलाह दी गई है। इस बीच एमआईटी की वेबसाइट भी पर सब कुछ सामान्य होने की बात कही गई है।

बोस्टन हमले की जांच कर रही फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टीगेशन (एफबीआई) तथा राज्य एवं स्थानीय प्रशासन के सैकड़ों पुलिसकर्मियों ने संदिग्धों की तलाश के लिए अभियान शुरू किया था। पुलिस ने आसपास रहने वाले लोगों से कहा है कि वे अपने घरों के दरवाजे बंद रखें, क्योंकि दूसरा संदिग्ध व्यक्ति अब भी वाटरटाउन में है। पुलिस ने घर-घर जाकर तलाशी करने की बात कही है। पुलिस आयुक्त एड डेविस ने कहा, हमें लगता है कि वह आतंकवादी है। हमें लगता है कि यह वही व्यक्ति है, जो लोगों को मारने यहां आया था। पुलिस ने जब दूसरे संदिग्ध को खदेड़ा तो एमआईटी के नजदीक गोलीबारी तथा विस्फोटों की आवाजें भी सुनी गई।

इससे पहले एफबीआई ने इन संदिग्धों की पहचान के लिए लोगों से मदद मांगते हुए दोनों की तस्वीरें जारी की थी। इन दोनों व्यक्तियों को धमाकों से ठीक पहले मैराथन दौड़ की समाप्ति रेखा के पास पीठ पर बैग लटकाए देखा गया था। इन धमाकों में तीन लोगों की लोगों की मौत हो गई थी और 170 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

मैराथन दौड़ वाले मार्ग पर लगे निगरानी कैमरों से ली गई वीडियों में इन दोनों लोगों को सड़क किनारे से रेस की समाप्ति रेखा की ओर जाते देखा गया। सिर पर टोपी और पीठ पर बैग लटकाए इन दोनों लोगों को 'संदिग्ध 1' और 'संदिग्ध 2' का नाम दिया गया।

एफबीआई ने हालांकि इन दोनों की नागरिकता का खुलासा नहीं किया। जांच एजेंसी ने कहा कि दोनों संदिग्धों में से एक ने दूसरे धमाके वाले स्थान के पास एक रेस्त्रां के सामने अपना बैग रखा था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement