आप यहां हैं : होम » दुनिया से »

हार्वर्ड ने नकल के मामले में छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की

 
email
email
Dozens suspended in Harvard University's cheating scandal
बोस्टन: ुनिया के सबसे प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थानों में शामिल हार्वर्ड विश्वविद्यालय की परीक्षा में नकल के मामले में 60 से अधिक छात्रों को संस्थान से बाहर जाने के लिए मजबूर होना पड़ा है, जबकि कई छात्रों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है।

हार्वर्ड के 'फैकल्टी ऑफ आर्ट एंड साइंस' के डीन माइकल स्मिथ ने कहा कि प्रशासनिक बोर्ड की ओर से 125 से अधिक मामलों की सुनवाई की गई है। स्मिथ ने कहा कि करीब आधे छात्रों को कुछ समय के लिए संस्थान से बाहर किया गया है, जबकि शेष को अनुशानात्मक कार्रवाई का सामना करना पड़ा है।

बीते साल अगस्त में सामने आए जालसाजी के मामले ने इस प्रतिष्ठित संस्थान को हिलाकर रख दिया था। यह मामला 'इंट्रोडक्शन टू कांग्रेस' पाठ्यक्रम से जुड़ा हआ है। विश्वविद्यालय ने इस मामले की जांच अगस्त में शुरू की थी।

इस धोखाधड़ी की जांच उस समय शुरू हुई, जब एक शिक्षा सहायक ने अंडर ग्रेजुएट स्तर के सरकारी कक्षाओं में इस समस्या की पहचान की। इसमें छात्रों का जवाब साझा करना शामिल है। स्मिथ ने कहा कि स्कूल के अकादमिक एकजुटता बोर्ड ने धोखाधड़ी जांच से जुड़े सभी मामलों का निपटारा कर लिया है। उन्होंने कहा कि आधे से अधिक मामलों में शामिल छात्रों को एक समयसीमा के लिए कॉलेज से जाना होगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 
ब्रिटेन में 12 साल की लड़की, 13 साल का लड़का, बने सबसे कम उम्र के मां-बाप

यह लड़की जब गर्भवती हुई, उस समय वह प्राइमरी स्कूल में पढ़ती थी। उसने सप्ताहांत एक पुत्री को जन्म दिया। जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ बताए जाते हैं।

Advertisement