आप यहां हैं : होम » दुनिया से »

भारतीय सैनिकों की हत्या नहीं की, जांच के लिए तैयार : पाकिस्तान

 
email
email
We didn't killed indian soldiers, ready for inquiry: Pakistan
इस्लामाबाद: ाकिस्तान ने बुधवार को भारत के इस दावे को खारिज कर दिया कि उसकी सेना ने जम्मू एवं कश्मीर में दो भारतीय सैनिकों की हत्या की है। हालांकि उसने भारतीय दावे की जांच कराने के लिए तैयार रहने की बात कही है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा, "पाकिस्तान नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारतीय क्षेत्र में गश्त कर रहे दो भारतीय सैनिकों की पाकिस्तानी सेना द्वारा हत्या किए जाने के भारत के दावे को खारिज करता है। ये निर्मूल व निराधार आरोप हैं।"

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह एलओसी पर युद्धविराम को लेकर भारत एवं पाकिस्तान के लिए संयुक्त राष्ट्र सैन्य पर्यवेक्षक समूह (यूएनएमओजीआईपी) के जरिये जांच कराने के लिए तैयार है।

वहीं, जियो न्यूज के अनुसार, पाकिस्तानी सेना के सैन्य अभियान महानिदेशक ने बुधवार अपने भारतीय समकक्ष से टेलीफोन पर बातचीत कर भारत के दावे को खारिज कर दिया।

पाकिस्तान के एक अन्य वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने कहा, "हमारी सेना ने हमले नहीं किए। भारतीय पक्ष पाकिस्तानी चौकी पर अपने हमले से ध्यान भटकाने के लिए इस तरह के दावे कर रहा है।"

पाकिस्तान ने आरोप लगाया है कि भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तानी चौकी पर गोलीबारी कर उसके एक सैनिक को मार डाला था। वहीं, भारतीय अधिकारियों ने आरोप लगाया है कि पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू एवं कश्मीर के मेंधर सेक्टर में घुसपैठ कर गश्त कर रहे भारतीय जवानों की हत्या कर दी और उनके शव क्षत-विक्षत कर दिए।

भारत और पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर वर्ष 2003 से युद्धविराम घोषित कर रखा है। भारत ने पाकिस्तान पर युद्धविराम के उल्लंघन का आरोप लगाया है, लेकिन पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है, "पाकिस्तान वर्ष 2003 के युद्धविराम समझौते को लेकर प्रतिबद्ध है, जो विश्वास बहाली का एक महत्वपूर्ण उपाय है। इसे सैद्धांतिक एवं व्यावहारिक दोनों स्तरों पर सम्मान दिया जाना चाहिए।"

पाकिस्तान ने मौजूदा सैन्य तंत्र को अधिक मजबूत बनाने की आवश्यकता पर भी बल दिया, ताकि इस तरह के उल्लंघन भविष्य में न हों।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान, भारत के साथ रचनात्मक, सतत व परिणामोन्मुखी बातचीत प्रक्रिया को लेकर प्रतिबद्ध है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...



Advertisement

 

Advertisement