'फास्ट ट्रैक कोर्ट' - 16 video result(s)

'फास्ट ट्रैक कोर्ट' - 23 news result(s)

दिल्ली गैंगरेप : हाईकोर्ट ने चारों दोषियों की फांसी की सजा की पुष्टि कीइस मामले में पिछले साल सितंबर में साकेत की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने चार दोषियों - मुकेश, अक्षय, विनय और पवन को फांसी की सजा सुनाई थी। मामले के मुख्य आरोपी बस ड्राइवर राम सिंह ने तिहाड़ जेल में खुदकुशी कर ली थी।
दिल्ली गैंगरेप : हाईकोर्ट में सजा की पुष्टि पर सुनवाई कल16 दिसंबर को दिल्ली में हुए गैंगरेप के चारों दोषियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट द्वारा सुनाई गई फांसी की सजा की पुष्टि के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में होने वाली सुनवाई बुधवार 12 बजे तक के लिए टल गई है।
जोधपुर जेल में बंद आसाराम ने की महिला वैद्य की मांगखबर यह भी है कि आसाराम का केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में शिफ्ट हो सकता है। एडिशनल एडवोकेट जनरल आनंद पुरोहित का कहना है कि आसाराम के सहयोगी शिवा ने अपने गुनाहों को कबूला है।
फास्ट ट्रैक कोर्ट में तेजी लाने की जरूरत : फरहान अख्तरसाल की शुरुआत में 'मेन अगेंस्ट रेप एंड डिस्क्रिमीनेशन' अभियान शुरू करने वाले अभिनेता-फिल्म निर्माता फरहान अख्तर मानते हैं कि फास्ट ट्रैक कोर्ट को अपनी अवधारणा के अनुसार दुष्कर्म पीड़ितों को तेजी से न्याय देना चाहिए।
दिल्ली गैंगरेप मामले की सुनवाई कवर करने की मीडिया को इजाजतदिल्ली हाईकोर्ट ने पिछले साल 16 दिसंबर को हुए सामूहिक बलात्कार मामले की रोजाना सुनवाई कवर करने की आज मीडिया को मंजूरी दे दी। अभी तक इस मामले की सुनवाई बंद कमरे में की जा रही थी।
दिल्ली गैंगरेप : सिंगापुर के डॉक्टर आज कोर्ट में देंगे गवाहीडॉक्टर पॉल चुई और डॉ एंजेला थॉमस की कोर्ट में गवाही रिकॉर्ड होने के बाद बचाव पक्ष के वकील उनसे सवाल जवाब भी करेंगे। डॉ पॉल चुई वही डॉक्टर हैं जिन्होंने बलात्कार पीड़ित की मौत के बाद पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट तैयार की थी।
दिल्ली गैंगरेप केस : फास्ट ट्रैक कोर्ट में डॉक्टरों और जजों की गवाही आजदिल्ली गैंगरेप के मामले की सुनवाई आज भी जारी रहेगी। फास्ट ट्रैक कोर्ट में आज जजों और डॉक्टरों की गवाही होनी है। तीन जजों ने पांच वयस्क आरोपियों के बयान दर्ज किए थे।
दिल्ली गैंगरेप केस : बयान देने व्हीलचेयर पर पहुंचा पीड़िता का दोस्तदिल्ली गैंगरेप केस में मंगलवार को कोर्ट में पीड़ित के दोस्त समेत अहम गवाहों के बयान दर्ज होंगे। आरोपियों पर शिकंजा मजबूत करने के लिए पुलिस एक और चार्जशीट दाखिल कर सकती है।
दिल्ली गैंगरेप में आरोप तय, साबित होने पर हो सकती है मौत की सजादिल्ली में 16 दिसंबर, 2012 को 23-वर्षीय पैरा-मेडिकल छात्रा के साथ चलती बस में हुए गैंगरेप के मामले में जिन आरोपों के तहत मुकदमा चलेगा, उसमें अधिकतम मौत की सजा हो सकती है। मामले की सुनवाई 5 फरवरी को होगी।
दिल्ली गैंगरेप : पीड़िता के परिजनों ने सभी आरोपियों के लिए फांसी की मांग कीदिल्ली गैंगरेप के छठे आरोपी को नाबालिग ठहराने के किशोर न्याय बोर्ड के फैसले को सामूहिक बलात्कार की शिकार लड़की के परिजन न्यायालय में चुनौती देंगे।
दिल्ली गैंगरेप : पीड़िता के परिजन किशोर न्याय बोर्ड के फैसले को देंगे चुनौतीदिल्ली सामूहिक बलात्कार कांड के छठे गुनहगार को नाबालिग ठहराने के किशोर न्याय बोर्ड के फैसले को सामूहिक बलात्कार की शिकार लड़की के परिजन न्यायालय में चुनौती देंगे।
दिल्ली गैंगेरप : जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने छठे आरोपी को नाबालिग मानादिल्ली गैंगरेप मामले में जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड छठे आरोपी को नाबालिग माना है। इसके साथ ही बोर्ड ने दिल्ली पुलिस की बोन टेस्ट की मांग नामंजूर कर दी है।
दिल्ली गैंगरेप : सरकारी पक्ष की जिरह पूरी, 28 को बचाव पक्ष रखेगा अपनी बातदिल्ली में 16 दिसंबर को हुए गैंगरेप के मामले में साकेत की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सरकारी पक्ष ने जिरह पूरी कर ली है।
महिलाओं के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट की पहल, दो विशेष अदालतें गठितसबसे महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि इस विशेष अदालत ने अपने पहले ही मामले की पहली ही सुनवाई में पीड़ित महिला के पक्ष में फैसला सुना दिया है।
गैंगरेप के बाद जनाक्रोश 'न्यायोचित' और 'आवश्यक' : मुख्य न्यायाधीशप्रधान न्यायाधीश अल्तमस कबीर ने कहा है कि दिसंबर 16 की सामूहिक बलात्कार की घटना के बाद जनाक्रोश भड़कना न्यायोचित और आवश्यक था।
दिल्ली गैंगरेप केस फास्ट-ट्रैक कोर्ट को सौंपा गयादिल्ली में चलती बस में 23-वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार और उसकी निर्मम हत्या के मामले को फास्ट-ट्रैक कोर्ट में भेज दिया गया है, जहां अगली सुनवाई 21 जनवरी को होगी।
सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश अल्तमश कबीर ने देश की तमाम हाईकोर्टों को चिट्ठी लिखकर कहा है कि महिलाओं से जुड़े मामलों में फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन किया जाए।
दिल्ली गैंगरेप मामला : आज से होगी फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाईदिल्ली पुलिस इस केस को पहले मजिस्ट्रेट की अदालत में दाखिल करेगी और वहां से यह केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चला जाएगा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कोर्ट में आरोपियों को नहीं लाया जाएगा।
दिल्ली गैंगरेप केस : चीफ जस्टिस ने किया पहले फास्ट ट्रैक कोर्ट का उद्घाटनजघन्य वारदात के खिलाफ सामने आए जनता के रोष को जायज ठहराते हुए प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि अगर वाहनों के शीशों से काली फिल्म हटाने को लेकर उच्चतम न्यायालय के दिशानिर्देशों का पालन किया गया होता तो इस घटना से बचा जा सकता था।
दुष्कर्म मामले में चार्जशीट तैयार, साकेत फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाईदिल्ली गैंगरेप मामले की सुनवाई साकेत की फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी। दिल्ली पुलिस इस केस को पहले मजिस्ट्रेट की अदालत में दाखिल करेगी और वहां से यह केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चला जाएगा।

फास्ट ट्रैक कोर्ट से जुड़े अन्य समाचार »

Advertisement

Advertisement