Hindi news home page

Prime time


'Prime time' - 196 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • प्राइम टाइम इंट्रो : तो क्या सच में भारत-अमरीका का करीब आना ऐतिहासिक है?

    प्राइम टाइम इंट्रो : तो क्या सच में भारत-अमरीका का करीब आना ऐतिहासिक है?

    भारत और अमरीका के बीच प्रगाढ़ होती दोस्ती से चीन और पाकिस्तान परेशान है ये तो एक बात हुई, लेकिन इस दोस्ती में ऐसा क्या ख़ास है कि हम बिल्कुल परेशान नहीं हैं. भारत और अमरीका अब मानसिक और राजनीतिक रूप से एक-दूसरे के करीब आ चुके हैं.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : सरोगेसी का दायरा सीमित करना कितना ठीक?

    प्राइम टाइम इंट्रो : सरोगेसी का दायरा सीमित करना कितना ठीक?

    मेडिकल कारणों से जिनके बच्चे नहीं होते हैं वो न जाने कहां कहां भटकते हैं. हमारे समाज में बच्चा चाहने वाले मां बाप का जिस स्तर पर भावनात्मक और आर्थिक शोषण होता है वो सामाजिक और पारिवारिक शोषण की तुलना में कुछ भी नहीं है. निसंतान दंपत्तियों को उपाय बेचने वालों का एक समानांतर तंत्र बिछा हुआ है.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : कमज़ोरों के साथ कितना सख़्त है सिस्टम

    प्राइम टाइम इंट्रो : कमज़ोरों के साथ कितना सख़्त है सिस्टम

    अक्सर सुबह शाम चैनलों को देखकर लगता है कि नेताओं, कलाकारों और कुछ मूर्ख लोगों के विवादित बयानों में ही अपना देश बसता है. यह एक सीमित मात्रा में ज़रूरी हो सकता है लेकिन क्या यही मीडिया सिस्टम का काम है. मीडिया सिस्टम यानी जिसमें आप भी शामिल हैं और हम भी शामिल हैं.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : दलित कबड्डी टीम की जीत गले नहीं उतरी

    प्राइम टाइम इंट्रो : दलित कबड्डी टीम की जीत गले नहीं उतरी

    मिलेनियम सिटी या अल्युमुनियम सिटी नाम रख देने से कुछ खास नहीं बदल जाता. जब सड़कों का ढांचा नहीं बदला तो दिमाग़ का सांचा कैसे बदल जाएगा. गुड़गांव नामक अतिप्राचीन और उत्तर आधुनिक नगर व्यवस्था से सटा एक गांव है चकरपुर.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : भारत की बलूचिस्तान नीति में बड़ा बदलाव

    प्राइम टाइम इंट्रो : भारत की बलूचिस्तान नीति में बड़ा बदलाव

    बात हो रही थी कि कश्मीर से बात नहीं हो रही है तो संसद में कश्मीर पर बात हुई, तय हुआ कि कश्मीर से बात करेंगे लेकिन कश्मीर पर किसी से बात नहीं करेंगे, अब जब भी बात करेंगे पाक अधिकृत कश्मीर पर बात करेंगे. राज्यसभा में समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव ने कहा था कि भारत पाक अधिकृत कश्मीर का मसला क्यों नहीं उठाता है.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : कश्मीर में तनाव से निपटने में ढिलाई हुई?

    प्राइम टाइम इंट्रो : कश्मीर में तनाव से निपटने में ढिलाई हुई?

    राज्यसभा में कश्मीर के हालात पर काफी खुल कर चर्चा हुई. सरकार ने भी सबको सुना और विपक्ष ने भी खूब सुनाया, बाद में सरकार ने भी सुनाया. लेकिन यह सब तकरार के माहौल में नहीं, संवाद के वातावरण में हो रहा था. संसद ने एकमत से प्रस्ताव पास किया गया कि सदन कश्मीर के हालात पर चिंतित है.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : गोरक्षा के नाम पर गोरखधंधे पर सख़्ती

    प्राइम टाइम इंट्रो : गोरक्षा के नाम पर गोरखधंधे पर सख़्ती

    गोली मार देने की बात मुझे नहीं जंची, भले ही यह बात इसलिए कही गई हो कि ठोस तरीके से मैसेज चला जाए. मेरी राय में प्रधानमंत्री को ऐसे अतिरेक से बचना चाहिए था. जिन गौ रक्षकों को वे दो दिन से असामाजिक तत्व, नकली गौ रक्षक, भारत की एकता को तोड़ने वाला मुट्ठी भर समूह बता रहे थे, उनके लिए यह कहना कि मुझे गोली मार दो मगर मेरे दलित भाइयों को मत मारो.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : नितिन पटेल का मीडिया में नाम, नहीं मिली कमान!

    प्राइम टाइम इंट्रो : नितिन पटेल का मीडिया में नाम, नहीं मिली कमान!

    जिस दिन आनंदीबेन पटेल ने इस्तीफे का एलान किया था उस दिन प्राइम टाइम पर अहमदाबाद के एक पत्रकार प्रशांत दयाल ने कहा कि वे जितना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को समझते हैं उसके आधार पर कह सकते हैं कि उन्हें मीडिया को ग़लत साबित करने में मज़ा आता है.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : क्या जीएसटी से टैक्स की चोरी रुक जाएगी?

    प्राइम टाइम इंट्रो : क्या जीएसटी से टैक्स की चोरी रुक जाएगी?

    भारत में केंद्र से लेकर राज्यों में सरकार भले ही अलग-अलग दलों की हो मगर आर्थिक नीतियां कमोबेश एक जैसी ही हैं. सबका मॉडल एक ही है लेकिन अब हर राज्य में एक ही प्रकार की कर प्रणाली होगी जिसका नाम जीएसटी है. गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : क्यों जाम हुआ गुड़गांव?

    प्राइम टाइम इंट्रो : क्यों जाम हुआ गुड़गांव?

    गुड़गांव जब गुरुग्राम हुआ तब किसी ने यह तो नहीं कहा था कि ट्रैफिक जाम नहीं लगेगा। अब जब लोग पांच से छह घंटे जाम में फंसे हैं तब जाकर लोगों को नाम बदलने की व्यर्थता समझ आई है। झुंझलाहट और खीझ में आई इस जागरूकता में भी कुछ बुनियादी समस्याएं हैं।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : 16 साल बाद अनशन तोड़ेंगी इरोम शर्मिला

    प्राइम टाइम इंट्रो : 16 साल बाद अनशन तोड़ेंगी इरोम शर्मिला

    9 अगस्त के दिन इरोम शर्मिला अपना उपवास तोड़ने जा रही हैं। इरोम शादी करेंगी और चुनाव लड़ेंगी। कहीं ऐसा तो नहीं कि हम सब इरोम शर्मिला की कहानी का ठीक से पाठ करने में चूक गए। आए दिन कोई न कोई नेता भारत के लोकतंत्र की महानता का गुणगान करते रहते हैं, क्या वे लोग भी चूक गए।

  • गोरक्षा के नाम पर यह मार-पिटाई कब रुकेगी?

    गोरक्षा के नाम पर यह मार-पिटाई कब रुकेगी?

    अगर कानून की समस्या है तो कानून को अपना काम करना चाहिए। कानून के बदले अगर वो काम कोई संगठन करने लगे तो एक दिन उसका हौसला बढ़ जाएगा।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : बाल मजदूरी संशोधन बिल पर अवाम में चर्चा आम क्यों नहीं?

    प्राइम टाइम इंट्रो : बाल मजदूरी संशोधन बिल पर अवाम में चर्चा आम क्यों नहीं?

    बाल श्रम दुनिया भर में एक अहम मुद्दा है। इसके नाम पर बच्चों के साथ क्या-क्या नहीं होता है और उनसे क्या-क्या नहीं कराया जाता है। बाल मजदूरी के खिलाफ समय-समय पर अभियान चलते रहते हैं। अब एक बिल पास हुआ है तो उसे लेकर जश्न क्यों नहीं है? आवाम में चर्चा आम क्यों नहीं है?

  • प्राइम टाइम इंट्रो : रजनी अपने आप में फिल्म हैं?

    प्राइम टाइम इंट्रो : रजनी अपने आप में फिल्म हैं?

    उत्तर भारत में हीरो की कमी नहीं है, लेकिन रजनीकांत जैसा कोई हीरो नहीं है। कहने वाले तो यह भी कहते हैं कि पूरी दुनिया में रजनीकांत सा कोई नहीं। 66 साल की उम्र में हीरो बने रहने का करिश्मा हिंदी सिनेमा के सुपर स्टार भी नहीं कर पाए।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : दलित उत्पीड़न पर लगाम कैसे लगे?

    प्राइम टाइम इंट्रो : दलित उत्पीड़न पर लगाम कैसे लगे?

    एक बार फिर राज्य सभा में दलित उत्पीड़न पर चर्चा हुई। एक बार फिर तमाम आंकड़े पढ़े गए। एक बार फिर चिंता जताई गई। एक बार फिर कई सदस्यों ने कहा कि यह काम हम एक बार फिर तो कर रहे हैं मगर अफसोस कि कुछ होता नहीं।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : क्या राष्ट्रवाद पत्रकारिता में दिखना चाहिए?

    प्राइम टाइम इंट्रो : क्या राष्ट्रवाद पत्रकारिता में दिखना चाहिए?

    कभी आपने सोचा है कि न्यूज़ चैनलों पर हर हफ्ते किसी न किसी बहाने ऐसे मुद्दे क्यों लौट आते हैं, जिनके बहाने राष्ट्रवाद की चर्चा होने लगती है।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : राशन के जरूरतमंद गरीब को 'भामाशाह एटीएम' न कह दे तो?

    प्राइम टाइम इंट्रो : राशन के जरूरतमंद गरीब को 'भामाशाह एटीएम' न कह दे तो?

    किसी भी योजना में चुनौती आती है। हो सकता है कि यह शुरुआती चुनौती हो, लेकिन जो गरीब 2 रुपए से ज्यादा का अनाज खरीद नहीं सकता उसे अनाज मिलने में एक दिन की देरी हो जाए तो उसका क्या?

  • प्राइम टाइम इंट्रो : यूपी में कांग्रेस को मिला नया चेहरा

    प्राइम टाइम इंट्रो : यूपी में कांग्रेस को मिला नया चेहरा

    चर्चा में नहीं है तो आप चुनाव में नहीं हैं। सोशल मीडिया पर वायरल न हुए तो लोग समझेंगे कि आपको वायरल हो गया है इसलिए कहीं दिख नहीं रहे हैं। इसलिए आप देखेंगे कि चुनाव से पहले चर्चा में बने रहने का संग्राम छिड़ जाता है।

Advertisement

 

Advertisement