आप यहां हैं : होम » विषय »Rahul Gandhi »

'Rahul gandhi' - 666 video result(s)

'Rahul gandhi' - 635 news result(s)

उप्र : 'राहुल भइया इस्तीफा दो, किसी दूसरे को मौका दो'कांग्रेस उपाध्यक्ष और अमेठी से सांसद राहुल गांधी के छुट्टी पर जाने के बाद उन पर विपक्ष के बाद अब अपने ही लोगों ने निशाना साधना शुरू कर दिया है।
राहुल गांधी का पता लगाने के लिए कोर्ट में याचिका दायरइलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ में आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी का पता लगाने हेतु गृह मंत्रालय और एसपीजी महानिदेशक को निर्देश जारी करने के लिए एक जनहित याचिका दाखिल की गई है।
सोनिया और राहुल के बीच किसी तरह का मतभेद नहीं : कांग्रेसकांग्रेस ने आज इन बातों को सिरे से खारिज किया कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बीच किसी तरह के मतभेद हैं। पार्टी ने वरिष्ठ नेताओं कमल नाथ और दिग्विजय सिंह की ओर से हाल में दिए गए उन बयानों को भी उनकी 'निजी राय' बताया, जिसमें भ्रम की स्थिति और पीढ़ी का फर्क होने जैसी बातें कही गई थीं।
टिप्पणी पर हंगामे के बाद वेंकैया नायडू ने जताया खेदसंसदीय कार्यमंत्री एम वेंकैया नायडू की टिप्पणी को लेकर लोकसभा में एकजुट विपक्ष ने आज उनसे माफी की मांग की जिस पर नायडू ने कहा कि उनका किसी की भावनाओं को आहत करने का कोई इरादा नहीं था। इस मुद्दे को लेकर आज सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी।
बाबा की कलम से : क्या अब राहुल वह कर पाएंगे, जो वह चाहते हैंकांग्रेस में लड़ाई युवा और नई सोच बनाम पुराने ढंग से पार्टी चलाने वाले नेताओं के बीच है। राहुल गांधी जानते हैं कि यह पार्टी के अस्तित्व की लडाई है, और अगर राहुल फेल हो गए तो कांग्रेस खत्म होने के कगार पर आ जाएगी, इसलिए नई सोच, नई ऊर्जा के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश भरने की जरूरत है।
रवीश कुमार : स्याह रातों के नोट्स बनाते राहुल गांधीराहुल को उत्तराखंड के खुले आसमान के नीचे लेटने दीजिए। सत्ता की उन नाइंसाफियों के साथ जागने दीजिए, जिसके साथ जीते-जीते नेता जनता की तकलीफों को देख गहरी नींद लेने लगते हैं। पंद्रह-बीस दिनों तक उस सफेद तंबू में लेटे-लेटे राहुल गांधी को सत्ता की स्याह रातों के कुछ नोट्स बनाने दीजिए।
कमलनाथ ने एनडीटीवी से कहा, पार्टी में फैसला लेने वाले दो नहीं, एक होंअब यह साफ हो गया है कि कांग्रेस का नए अध्यक्ष राहुल गांधी होंगे। इसके लिए अप्रैल में कांग्रेस का एक अधिवेशन शिमला में बुलाया जाएगा, जहां देशभर से आए 8,000 से अधिक प्रतिनिधि राहुल को पार्टी अध्यक्ष चुनेंगे।
कहां गए हैं राहुल गांधी, विदेश या उत्तराखंड में?कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि राहुल गांधी विदेश में नहीं, बल्कि उत्तराखंड में छुट्टियां बिता रहे हैं। जगदीश शर्मा ने ट्विटर पर तीन तस्वीरें पोस्ट करते हुए लिखा, "राहुल गांधी हमेशा उत्तराखंड की पहाड़ियों पर जाते हैं, बैकॉक नहीं।"
राहुल गांधी के बिना जंतर मंतर पर कांग्रेस का जमीन वापसी आंदोलनपहले इसका नेतृत्व राहुल गांधी ही करने वाले थे। कांग्रेस इसका आधिकारिक ऐलान कर चुकी थी। लेकिन राहुल गांधी के अचानक छुट्टी पर चले जाने से पार्टी को अपने दूसरे नेताओं को यहां उतारना पड़ रहा है।
उमाशंकर सिंह की कलम से : पुत्र-मोह नहीं, सोनिया की मजबूरी हैं राहुल!प्रियंका के मना करने के बाद सोनिया ने और कोई चारा न देख राहुल गांधी के सामने चुनाव लड़ने का प्रस्ताव रखा। मां की इच्छा को राहुल टाल नहीं पाए। वे आए और अमेठी से मैदान में उतार दिए गए। 2004 में कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए वन बनना किसी चमत्कार से कम नहीं था।
राहुल गांधी दो हफ्ते में छुट्टी से लौट आएंगे : कांग्रेसकांग्रेस ने आज कहा कि राहुल गांधी दो हफ्ते की छुट्टी पर हैं। ऐसा कहकर पार्टी ने उनकी गैरहाजिरी के बारे में निकाले जा रहे कई अर्थों को विराम देने की कोशिश करने के साथ ही पार्टी महासचिव दिग्विजय सिंह को उनकी इस बात के लिए झिड़की लगाई जिसमें उन्होंने राहुल के छुट्टी के समय को लेकर खामी निकाली थी।
...तो इस वजह से नाराज राहुल गांधी ने अचानक ले ली छुट्टीएनडीटीवी को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आसपास एक लॉबी है, जिसे राहुल पसंद नहीं करते हैं। सोनिया की लॉबी उन्हें सलाह देती रहती है कि पुराने लोगों को हटाने पर राहुल गांधी पार्टी संभाल नहीं पाएंगे।
आम चिंतन के पहले राहुल का आत्म चिंतनकांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोनिया गांधी से छुट्टी मांगी है बाहर जा कर चिंतन मनन करने के लिए। ये छुट्टी राहुल ने तब मांगी है जब संसद का बजट सत्र शुरू हुआ है और अण्णा हजारे एनडीए सरकार के भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ रामलीला मैदान में धरना पर बैठे हैं।
'कांग्रेस पार्टी के भविष्‍य' पर चिंतन के लिए राहुल गांधी ने मांगी 'छुट्टी'अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के अप्रैल में संभावित महत्वपूर्ण सत्र से पहले पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ‘हालिया घटनाओं’ और पार्टी की भावी कार्रवाई पर चिंतन के लिए कुछ हफ्तों की छुट्टी ली है।
सहमति बनी तो अरविंद केजरीवाल का मंच पर स्वागत करेंगे : एनडीटीवी से अण्णा हजारेभूमि अधिग्रहण अध्यादेश के विरोध में समाजसेवी अण्णा हजारे आज से दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेंगे। अण्णा ने एनडीटीवी से कहा कि अगर उनके आंदोलन के समर्थन में राहुल गांधी आते हैं तो वह जनता के साथ बैठ सकते हैं।
केजरीवाल, राहुल विरोध प्रदर्शन में शामिल हो सकते हैं, मंच साझा नहीं कर सकते : अण्णा हजारेभूमि अध्यादेश के खिलाफ सोमवार से दो-दिवसीय विरोध प्रदर्शन करने वाले अण्णा हजारे ने इस अध्यादेश को किसान विरोधी करार देते हुए कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस नेता राहुल गांधी आंदोलन में शामिल हो सकते हैं, लेकिन वे उनके साथ मंच साझा नहीं करेंगे।
उमाशंकर सिंह की कलम से : दिल्ली चुनाव में कहां टिकेगी कांग्रेसदिल्ली का चुनाव कांग्रेस पार्टी के लिए भी काफ़ी अहम है। कांग्रेस ने दिल्ली में अपने ढह चुके पुराने गढ़ों में फिर से मज़बूती हासिल करने की पुरज़ोर कोशिश की है, लेकिन इस चुनाव के नतीजे बताएंगे कि दिल्ली में कांग्रेस कहां खड़ी है।
दिल्ली चुनाव : राहुल गांधी का ओखला में प्रस्तावित रोड शो रद्दआज का पहला रोड शो शनि बाजार चौक से शुरू होकर सब्ज़ी मंडी पर ख़त्म होगा। दूसरा रोड शो ओखला इलाके में रखा गया है।
चुनाव प्रचार के अंतिम दिन दिल्ली की सड़कों पर उतरेंगे राहुल गांधीगोविंद पुरी के रविदास मार्ग से शुरू हुए राहुल गांधी के पहले रोड शो का काफिला चुनाव के अंतिम दिन कांग्रेस के विधायक रहे जयकिशन के इलाके सुल्तान पुरी पहुचेंगा। इसके बाद वह ओखला में भी रोड शो करेंगे।
राहुल गांधी के रोड शो के जरिये कांग्रेस ने किया शक्ति प्रदर्शनदिल्ली विधानसभा के लिए चुनावी अभियान अब आखिरी चरण में है। गुरुवार शाम 5 बजे चुनावी आभियान थमने से पहले पार्टियां आम मतादातओं को लुभाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही हैं और उन्हें लुभाने के लिए पूरी ताकत लगा रही हैं।

Rahul gandhi से जुड़े अन्य समाचार »

Advertisement

Advertisement