Hindi news home page

Ravish kumar


'Ravish kumar' - 525 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बैंकों का राजन दिलों का भी राजन है!

    बैंकों का राजन दिलों का भी राजन है!

    उस सभागार में सबकी नज़रों का राजन एक ही था! ख़ुद को देखे और निहारे जाने के असर से उनके कंधे झुके जा रहे थे। जिन्हें देखा जा रहा था उनके चेहरे पर सकुचाहट तैर रही थी और देखने वालों के चेहरे पर अकुलाहट।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : इसरो का एक और कामयाब प्रयोग

    प्राइम टाइम इंट्रो : इसरो का एक और कामयाब प्रयोग

    सोमवार की सुबह जब आप काम पर जाने की तैयारी कर रहे थे तब यह यान अंतरिक्ष की तरफ जाकर आने का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहा था। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान यानी इसरो का यह नया कमाल है।

  • राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सादगी और बीजेपी का वैभव

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सादगी और बीजेपी का वैभव

    राजनीतिक आलोचक सिर्फ इतना बता दें कि क्या वे सत्ता में रहते हुए संघ की तरह का राजनीतिक संगठन खड़ा कर सके हैं, जहां उनके वैचारिक आदर्शों को लेकर ऐसे लोग हों जो 24 साल की उम्र में अवध तिरहुत एक्सप्रेस से गुवाहाटी चले जाएं, जैसे आप्टे जी चले गए थे।

  • क्या नोटा को और अधिक प्रचारित करने की ज़रूरत है?

    क्या नोटा को और अधिक प्रचारित करने की ज़रूरत है?

    किसी पार्टी का कोई उम्मीदवार पसंद न हो तो आप क्या करते हैं। फिर भी वोट करते हैं या उसके ख़िलाफ नोटा का इस्तमाल करते हैं। आपकी ईवीम मशीन में NONE OF THE ABOVE, NOTA का गुलाबी बटन होता है। क्या आपने ग़लत उम्मीदवार देने के कारण किसी पार्टी के प्रति अपना विरोध जताया है।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : क्या वाकई छात्रों के बीच NEET को लेकर नाराज़गी है?

    प्राइम टाइम इंट्रो : क्या वाकई छात्रों के बीच NEET को लेकर नाराज़गी है?

    आदेश और अध्यादेश के चक्कर में नेशनल एंट्रेंस एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट नीट (NEET) फंस गया है। क्या सरकार ने नीट के ख़िलाफ अध्यादेश का कदम वाकई ज़मीनी हकीकत के आधार पर उठाया है या उसके सामने कृत्रिम विरोध की तस्वीर पेश की गई। 10 मई को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि इसी साल से नीट होगा।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : असम में जीतकर मनोवैज्ञानिक दबाव से उबरी बीजेपी

    प्राइम टाइम इंट्रो : असम में जीतकर मनोवैज्ञानिक दबाव से उबरी बीजेपी

    असम में भारतीय जनता पार्टी की जीत पांच राज्यों के चुनावों की सबसे बड़ी खबर है। असम की राजनीति की अपनी जटिलता है। वहां की सामाजिक विविधता के कारण भारतीय जनता पार्टी के लिए लड़ाई आसान नहीं थी।

  • असम की जीत : बीजेपी ने राजनीतिक परिश्रम की नई कहानी लिखी

    असम की जीत : बीजेपी ने राजनीतिक परिश्रम की नई कहानी लिखी

    असम में अपने बूते बहुमत ही नहीं शानदार जीत हासिल कर भारतीय जनता पार्टी ने राजनीतिक परिश्रम की एक नई कहानी लिखी है जिसे लंबे समय तक पढ़ा जाएगा। कई दशकों तक बिना किसी नतीजे के परिश्रम करते रहना और धीरे-धीरे एक-एक सीट हासिल करते हुए 90 से अधिक सीटों को जीत लेना एक बड़ी राजनीतिक घटना है।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : क्या राजन के बारे में स्वामी की सोच सरकार की भी है?

    प्राइम टाइम इंट्रो : क्या राजन के बारे में स्वामी की सोच सरकार की भी है?

    स्वामी का कोई स्वामी नहीं है लेकिन स्वामी रिजर्व बैंक के जिस स्वामी पर हमले कर रहे हैं उसके बहाने कहीं वे अपनी सरकार के स्वामी को भी तो नहीं घसीट रहे? क्या राजन के बारे में स्वामी की सोच सरकार की भी है?

  • प्राइम टाइम इंट्रो : नेताओं, अपराधियों के निशाने पर पत्रकार

    प्राइम टाइम इंट्रो : नेताओं, अपराधियों के निशाने पर पत्रकार

    बिहार के सीवान ज़िले के पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या की जांच सीबीआई को सौंप दी गई है। हिन्दुस्तान अख़बार के ब्यूरो चीफ राजदेव रंजन की हत्या के मामले में कुछ गिरफ्तारी तो हुई है मगर ठोस सुराग़ नहीं मिले हैं। सब की निगाह हत्या के कारणों पर है।

  • यह जो सूखा है... डूबा देता है...

    यह जो सूखा है... डूबा देता है...

    लोग अब लोग नहीं रहे। लोग अब राजनीतिक दल के लोग होते जा रहे हैं। इस तस्वीर में चंद लोग नजर आ रहे हैं जो अभी तक लोग हैं। किसी दल के नहीं बने हैं। इसलिए इनके लिए कोई लोग नहीं हैं। कुएं के ऊपर बैठे कुछ लोगों को देर तक देखता रहा। जबकि नजर जानी चाहिए थी कुएं में तैरती दिख रही महिला पर।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : तो आखिर कौन है मालेगांव का गुनहगार?

    प्राइम टाइम इंट्रो : तो आखिर कौन है मालेगांव का गुनहगार?

    NIA ने जब मालेगांव मामले पर जब अपनी चार्जशीट पेश की तो कइयों को लगा कि हेमंत करकरे की जांच को ही संदिग्ध बना दिया गया है। क्या ऐसा अफसर जिसने अपनी जान की परवाह तक नहीं की वो ऐसी जांच करेगा जिससे आतंकवाद की एक ऐसी थ्योरी हवा में तैरने लगेगी जिस पर कोई यकीन करने के लिए तैयार नहीं है।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन पर स्वामी के तीखे वार

    प्राइम टाइम इंट्रो : आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन पर स्वामी के तीखे वार

    राज्य सभा के सांसद और बीजेपी नेता सुब्रमणियन स्वामी ने भारतीय रिज़र्व बैंक के गर्वनर रघुराम राजन के बारे में कहा है कि उन्हें वापस शिकागो भेज देना चाहिए। स्वामी का कहना है कि बढ़ी हुई ब्याज दरों ने उद्योग-धंधे चौपट कर दिये।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : तमिलनाडु में जयललिता और करुणानिधि के विज्ञापनों में एक ही कलाकार

    प्राइम टाइम इंट्रो : तमिलनाडु में जयललिता और करुणानिधि के विज्ञापनों में एक ही कलाकार

    हमारी राजनीति अगर विज्ञापनों और प्रबंधन पर इस कदर निर्भर होने लगेगी तो वही होगा जो तमिलनाडु में हुआ है। राजनीतिक दलों से अपील है कि वे जब भी विज्ञापन बनवाएं, एजेंसी से क्लियर कर लें कि जो एक्टर काम करेगा वो विरोधी दल के चुनावी विज्ञापन में काम तो नहीं कर चुका है।

  • विराट का नाम लेकर बेल के शर्बत की मिठास पसर जाती है उसके चेहरे पर...

    विराट का नाम लेकर बेल के शर्बत की मिठास पसर जाती है उसके चेहरे पर...

    " दो साल पहले अपने ठेले पर हीरो का पोस्टर लगता था मगर अब विराट के अलावा कोई नहीं " अमित के ठेले पर विराट कोहली ही बेल के शर्बत के ब्रांड एम्बेसेडर हैं। लखनऊ से आया अमित दक्षिण दिल्ली के ग्रेटर कैलाश से गुजर रहा था। उसके ठेले पर विराट कोहली की खिलखिलाती तस्वीर ने मुझे रोक लिया।

  • क्या चुनावी तुलनाओं के प्रतिशोध में केरल को सोमालिया तक ले गए प्रधानमंत्री...?

    क्या चुनावी तुलनाओं के प्रतिशोध में केरल को सोमालिया तक ले गए प्रधानमंत्री...?

    चुनावी राजनीति में थोड़ी किरकिरी तो सबकी हो जाती है। इसी बहाने हम जैसे लोगों को केरल की जनजाति और सोमालिया का अध्ययन करने का मौका मिला, उसके लिए प्रधानमंत्री का शुक्रिया। कई बार किसी का नहीं जानना किसी और के जानने का मार्ग प्रशस्त कर देता है।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : उत्तराखंड में रावत सरकार बहाल

    प्राइम टाइम इंट्रो : उत्तराखंड में रावत सरकार बहाल

    कांग्रेस के ज़माने में राष्ट्रपति शासन के दुरुपयोग का विरोध करते रहने वाली बीजेपी इस बार ख़ुद फंस गई। मोदी सरकार ने जितनी भी दलीलें और धाराओं का सहारा लिया, कोर्ट में कुछ नहीं टिका। हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक बीजेपी इस मामले में लगातार हारते चली गई। सदन में जब विश्वासमत हुआ उसमें भी हार गई।

  • प्राइम टाइम इंट्रो : क्या इतिहास के भगवाकरण की कोशिश हो रही है?

    प्राइम टाइम इंट्रो : क्या इतिहास के भगवाकरण की कोशिश हो रही है?

    इतिहास के लिए इससे अच्छा दौर कुछ नहीं हो सकता। दो साल के दौरान इतिहास से जुड़े कई विषयों पर सार्वजनिक रूप से राजनीतिक चर्चा हो चुकी है। रैलियों से लेकर अखबारों के स्तंभों और चैनलों के स्टूडियो में। हमने जितना कंप्यूटर साइंस पर डिबेट नहीं किया, उससे कहीं ज्यादा इतिहास को लेकर भिड़ रहे हैं।

  • आदित्य की 'हत्या के आरोपी' रॉकी यादव के नाम रवीश कुमार का खुला खत

    आदित्य की 'हत्या के आरोपी' रॉकी यादव के नाम रवीश कुमार का खुला खत

    तुम्हारी मां अगर मांओं का दर्द समझतीं तो तुम्हें लाखों रुपये का रिवॉल्वर लेने नहीं देती। मांओं का सपना बेटों को रिवॉल्वर देना नहीं होता है। बंदूक तो बंदूक, तुम्हारा नाम भी मोहल्ले के छलिया जैसा है। ख़ैर, इसका घटना से कोई ताल्लुक़ नहीं है।

 

Advertisement

 

Advertisement