Hindi news home page
Collapse
Expand

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति का संबोधन

दिल्ली में हुए बर्बर सामूहिक बलात्कार और उसके बाद आक्रोषित युवाओं के प्रदर्शन को लेकर ताज़ा चर्चा छेड़ते हुए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने सवाल उठाया कि देश की व्यवस्थापिका उभर रहे भारत को प्रतिबिम्बित करती है या फिर इसमें मौलिक सुधार की आवश्यकता है। (वीडियो साभार : दूरदर्शन)



संबंधित

Advertisement

 

Advertisement