आप यहां हैं : होम » वीडियो »

अफजल- भुल्लर पर अलग-अलग राय क्यों?

फांसी की सज़ा की सियासत का हाल यही होता है। आप कश्मीर को लेकर मुखर हो जाते हैं तो पंजाब को लेकर चुप या उदासीन हो जाते हैं।





संबंधित

ख़बरें

Advertisement

Advertisement