NDTV Khabar
होम | चुनाव |   रोहतक 

रोहतक लोकसभा सीट परिणाम

लोकसभा चुनाव 2019: हरियाणा (Haryana) की रोहतक संसदीय सीट (Rohtak Lok Sabha Election Results 2019) के सभी प्रत्याशियों और परिणाम के साथ-साथ इतिहास और पूर्व सांसदों के बारे में जानिए. इसके अलावा हरियाणा की अन्य लोकसभा सीटों के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए स्क्रॉल करें.

  • पार्टी
  • उम्मीदवार

  • वोट*
  • स्थिति
*प्रोविजनल डेटा

2014 विजेतादीपेंद्र सिंह हुड्डा

  • कांग्रेस

2019 विजेताअरविन्द कुमार शर्मा

  • बीजेपी

हरियाणा: अन्य चुनाव क्षेत्र

चुनाव क्षेत्रअग्रणी पार्टीस्थिति
अम्बालारतन लाल कटारियाबीजेपीजीते
भिवानी महेंद्रगढ़धरमबीर सिंह - भाले रामबीजेपीजीते
फरीदाबादकृष्ण पालबीजेपीजीते
गुड़गांवराव इंदरजीत सिंहबीजेपीजीते
हिसारबृजेंद्र सिंहबीजेपीजीते
करनालसंजय भाटियाबीजेपीजीते
कुरुक्षेत्रनायब सिंहबीजेपीजीते
रोहतकअरविन्द कुमार शर्माबीजेपीजीते
सिरसासुनीता दुग्गलबीजेपीजीते
सोनीपतरमेश चंदर कौशिकबीजेपीजीते

हरियाणा के बारे में

हरियाणा की रोहतक लोकसभा सीट (Rohtak Lok Sabha Election Results 2019) पर 2014 में हुए चुनाव में कांग्रेस के दीपेन्द्र सिंह हुड्डा ने जीत हासिल की थी. उन्हें 4,90,063 वोट मिले और 3,19,436 वोट पाकर दूसरे पायदान पर BJP के ओम प्रकाश धनखड़ रहे थे.

रोहतक लोकसभा सीट से 1951 और 1957 में कांग्रेस के रणबीर सिंह हुड्डा दो बार सांसद रहे थे. 1962 में जनसंघ के लहरी सिंह, 1967 में कांग्रेस के चौधरी रणधीर सिंह, 1971 में जनसंघ के मुख्तियार सिंह मलिक, 1977 में जनता पार्टी के शेर सिंह, 1980 में जनता पार्टी के इंद्रवेश, 1984 में कांग्रेस के हरद्वारी लाल, 1989 में समाजवादी जनता पार्टी के चौधरी देवी लाल ने जीत हासिल की. वहीं 1991, 1996 और 1998 में कांग्रेस के भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने हैट्रिक मारी. 1999 में हरियाणा लोकदल (राष्ट्रीय) के कैप्टन इंद्र सिंह, 2004 में कांग्रेस के भूपेंद्र सिंह हुड्डा, 2005, 2009 और 2014 में कांग्रेस के दीपेन्द्र सिंह हुड्डा ने लगातार तीन बार जीत हासिल की.

2014 में चुनाव जीते दीपेन्‍द्र हुड्डा का जन्‍म 4 जनवरी, 1978 को हुआ था. यह पेशे से राजनैति‍क तथा सामाजि‍क कार्यकर्ता हैं. इन्‍होंने बीटेक, एमबीए, बि‍रला इंस्‍टीट्यूट, एमडी वि‍श्‍ववि‍द्यालय, रोहतक (हरि‍याणा) से किया था.

रोहतक लोकसभा सीट के अंतर्गत 9 विधानसभा सीटें आती हैं, जिनमें मेहम, गढ़ी संपला-किलोई, रोहतक, बहादुरगढ़, बादली, बेरी, कोसली, कलानौर और झज्जर शामिल हैं.

फोटो सौजन्‍य: loksabha.nic.in
ख़बर
फोटो
वीडियो

Advertisement