#ElectionsWithNDTV

Sponsors

NDTV Khabar
होम | चुनाव |   उत्तर प्रदेश 

कुल सीटें- 80

LIVE उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव परिणाम 2019

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh Lok Sabha election Results 2019) देश का वह राज्य है जो केंद्र की सत्ता हासिल करने में सबसे अहम भूमिका निभाता है. 2014 के आम चुनाव और उसके बाद हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने यहां बड़ी जीत हासिल की, लेकिन उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव 2019 में उसकी राह आसान नहीं है. उत्तर प्रदेश की सभी लोकसभा सीटों के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए स्क्रॉल करें.

चुनाव क्षेत्रअग्रणी प्रत्याशीपार्टीस्थिति
आगराप्रोफेसर एस.पी. सिंह बघेलबीजेपीबरकरार
अकबरपुरदेवेंद्र सिंह 'भोले'बीजेपीबरकरार
अलीगढ़सतीश कुमार गौतमबीजेपीबरकरार
इलाहाबादरीता बहुगुणा जोशीबीजेपीबरकरार
अम्बेडकर नगररितेश पांडेबीएसपीआगे
अमेठीस्मृति ईरानीबीजेपीआगे
अमरोहाकुंवर दानिश अलीबीएसपीआगे
आंवलाधर्मेंद्र कश्यपबीजेपीबरकरार
आज़मगढ़अखिलेश यादवएसपीबरकरार
बदायूंडॉ. संघमित्रा मौर्यबीजेपीआगे
बागपतजयंत चौधरीआरएलडीआगे
बहराइचअक्षयबर लालबीजेपीबरकरार
बलियावीरेंद्र सिंहबीजेपीबरकरार
बांदाआर.के. सिंह पटेलबीजेपीबरकरार
बांसगांवकमलेश पासवानबीजेपीबरकरार
बाराबंकीउपेंद्र सिंह रावतबीजेपीबरकरार
बरेलीसंतोष कुमार गंगवारबीजेपीबरकरार
बस्तीहरीश चंद्र उर्फ हरीश द्विवेदीबीजेपीबरकरार
भदोहीरमेश चंदबीजेपीबरकरार
बिजनौरमलूक नागरबीएसपीआगे
बुलंदशहरभोला सिंहबीजेपीबरकरार
चंदौलीडॉ. महेंद्र नाथ पांडेबीजेपीबरकरार
देवरियारमापति राम त्रिपाठीबीजेपीबरकरार
धौरहरारेखा वर्माबीजेपीबरकरार
डुमरियागंजजगदम्बिका पालबीजेपीबरकरार
एटाराजवीर सिंह (राजू भैया)बीजेपीबरकरार
इटावाडॉ. राम शंकर कठेरियाबीजेपीबरकरार
फैजाबादलल्लू सिंहबीजेपीबरकरार
फर्रुखाबादमुकेश राजपूतबीजेपीबरकरार
फतेहपुरनिरंजन ज्योतिबीजेपीबरकरार
फतेहपुर सीकरीराजकुमार चाहरबीजेपीबरकरार
फिरोजाबादडॉ चंद्र सेन जादोनबीजेपीआगे
गौतम बुद्ध नगरमहेश शर्माबीजेपीबरकरार
गाज़ियाबादवी.के. सिंहबीजेपीबरकरार
गाजीपुरअफजल अंसारीबीएसपीआगे
घोसीअतुल कुमार सिंह उर्फ अतुल रायबीएसपीआगे
गोंडाकीर्ति वर्धन सिंह उर्फ राजा भैयाबीजेपीबरकरार
गोरखपुररवींद्र श्यामनारायण शुक्ला उर्फ रवि किशनबीजेपीबरकरार
हमीरपुरकुंवर पुष्पेंद्र सिंह चंदेलबीजेपीबरकरार
हरदोईजय प्रकाशबीजेपीबरकरार
हाथरसराजवीर दिलेरबीजेपीबरकरार
जालौनभानु प्रताप सिंह वर्माबीजेपीबरकरार
जौनपुरश्याम सिंह यादवबीएसपीआगे
झांसीअनुराग शर्माबीजेपीबरकरार
कैरानाप्रदीप कुमारबीजेपीबरकरार
कैसरगंजबृजभूषण शरण सिंहबीजेपीबरकरार
कन्नौजसुब्रत पाठकबीजेपीआगे
कानपुरसत्यदेव पचौरीबीजेपीबरकरार
कौशाम्बीविनोद कुमार सोनकरबीजेपीबरकरार
खीरीअजय कुमारबीजेपीबरकरार
कुशीनगरविजय कुमार दुबेबीजेपीबरकरार
लालगंजसंगीता आज़ादबीएसपीआगे
लखनऊराजनाथ सिंहबीजेपीबरकरार
मछलीशहरभोलानाथ (बी.पी. सरोज)बीजेपीबरकरार
महाराजगंजपंकज चौधरीबीजेपीबरकरार
मैनपुरीमुलायम सिंह यादवएसपीबरकरार
मथुराहेमा मालिनीबीजेपीबरकरार
मेरठहाजी मोहम्मद याकूबबीएसपीआगे
मिर्जापुरअनुप्रिया पटेलएडीबरकरार
मिसरिखअशोक कुमार रावतबीजेपीबरकरार
मोहनलालगंजकौशल किशोरबीजेपीबरकरार
मुरादाबादडॉ. एस थसनएसपीआगे
मुज़फ़्फ़रनगरसंजीव कुमार बालियानबीजेपीबरकरार
नगीनाडॉ. यशवंत सिंहबीजेपीबरकरार
फूलपुरकेशरी देवी पटेलबीजेपीबरकरार
पीलीभीतवरुण गांधीबीजेपीबरकरार
प्रतापगढ़संगम लाल गुप्ताबीजेपीआगे
रायबरेलीसोनिया गांधीकांग्रेसबरकरार
रामपुरआज़म खानएसपीआगे
रॉबर्ट्सगंजपकौड़ी लाल कोलएडीआगे
सहारनपुरहाजी फज़लुर रहमानबीएसपीआगे
सलेमपुरआर.एस. कुशवाहाबीएसपीआगे
संभलडॉ शफीकुर रहमान बर्कएसपीआगे
संत कबीर नगरप्रवीण कुमार निषादबीजेपीबरकरार
शाहजहांपुरअरुण कुमार सागरबीजेपीबरकरार
श्रावस्तीराम शिरोमणिबीएसपीआगे
सीतापुरनकुल दुबेबीएसपीआगे
सुल्तानपुरमेनका गांधीबीजेपीबरकरार
उन्नावसाक्षी महाराजबीजेपीबरकरार
वाराणसीनरेंद्र मोदीबीजेपीबरकरार

उत्तर प्रदेश के बारे में

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh Lok Sabha election Results 2019) देश का ऐसा राज्य है जो समूची राजनीति को प्रभावित करता है, क्योंकि यहां सबसे ज्यादा 80 लोकसभा सीटें हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव के अलावा उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh elections 2019) विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी (BJP) ने यहां इतिहास रचते हुए बड़ी जीत हासिल की थी, लेकिन उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी को कड़े मुकाबले का सामना करना पड़ रहा है. दरअसल, इसके पीछे सबसे बड़ा कारण यह है कि सालों से एक-दूसरे के विरोधी माने जाने वाली सपा(SP) और बसपा(BSP) ने जीत के लिए गठबंधन कर लिया है. अब उत्तर प्रदेश चुनाव 2019 में मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है. बात साफ है बीजेपी फिर इतिहास रचना चाहती है, कांग्रेस(Congress) अपने वर्चस्व के लिए लड़ रही है और सपा-बसपा फिर से यूपी की सत्ता हासिल करना चाहते हैं.

उत्तर प्रदेश जनसंख्या के आधार पर भारत का सबसे बड़ा राज्य है. 24 जनवरी 1950 को अस्तित्व में आए इस राज्य की राजधानी लखनऊ है और हाईकोर्ट प्रयागराज में है. संसद ने 9 नवम्बर सन् 2000 में उत्तर प्रदेश के उत्तर पश्चिमी पहाड़ी भाग को अलग करके उत्तराखंड राज्य का निर्माण किया. उत्तर प्रदेश का अधिकतर हिस्सा सघन आबादी वाला है. यह राज्य 2,40,928 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला हुआ है. उत्तर प्रदेश में 18 संभाग हैं और 75 जिले हैं. साढ़े तीन सौ तहसीलों वाले इस प्रदेश में 56 विश्वविद्यालय हैं.

प्रदेश के प्रमुख शहरों में आगरा, अलीगढ़, अयोध्या, कानपुर, झांसी, बरेली, मेरठ, वाराणसी, गोरखपुर, मथुरा, मुरादाबाद, आजमगढ़, बहराइच, देवरिया बांदा, हमीरपुर, जालौन, महोबा, ललितपुर,सीतापुर, लखीमपुर खीरी, गाजियाबाद, अलीगढ़, सुल्तानपुर, नोएडा, मुज़फ्फरनगर, सहारनपुर तथा श्रावस्ती शामिल हैं. राज्य के उत्तर में उत्तराखंड तथा हिमाचल प्रदेश, पश्चिम में हरियाणा, दिल्ली तथा राजस्थान, दक्षिण में मध्यप्रदेश तथा छत्तीसगढ़ और पूर्व में बिहार तथा झारखंड राज्य स्थित हैं. राज्य की पूर्वोत्तर दिशा में नेपाल है.

उत्तर प्रदेश की आबादी करीब 20 करोड़ है. दुनिया के केवल पांच देश चीन, भारत, संयुक्त राष्ट्र अमेरिका, इंडोनेशिया और ब्राजील ऐसे राष्ट्र हैं जिनकी जनसंख्या उत्तरप्रदेश की जनसंख्या से अधिक है. प्रदेश में 14.5 करोड़ मतदाता हैं. इनमें पुरुष मतदाता 7.7 करोड़, महिला मतदाता    6.3 करोड़ और थर्ड जेंडर मतदाता 6,983 शामिल हैं.

उत्तर प्रदेश के राजनीतिक दलों में राष्ट्रीय पार्टियां भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी), कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (सीपीआई), भारतीय साम्यवादी पार्टी (सीपीआई-एम) शामिल हैं. राज्य स्तरीय पार्टियां समाजवादी पार्टी (एसपी) और राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) हैं. इसके अलावा इस प्रदेश में कई छोटे क्षेत्रीय दल भी हैं. बसपा की मायावती, समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव, आरएलडी के अजीत सिंह इस राज्य के प्रमुख नेता हैं.

यूपी में लोकसभा सदस्यों की संख्या 80 और राज्यसभा सदस्यों की संख्या 31 है.  उत्तर प्रदेश    की 80 लोकसभा सीटों में से  63 सामान्य वर्ग की और 17 आरक्षित वर्गों के लिए हैं. यहां की विधानसभा में सदस्यों की संख्या 404 और विधान परिषद सदस्यों की संख्या 100 है.

कुल सीटें- 80

ख़बर
फोटो
वीडियो

Advertisement