NDTV Khabar
होम | चुनाव |   सांसद 2019 

जानें अपने सांसद को

चुनाव परिणाम 2019: जानिए 17वीं लोकसभा के लिए चुने गए 542 सांसदों के बारे में




एक्जिट पोल से बीजेपी में आशा जगी, जोरदार मतदान से विपक्ष को उम्मीद लोकसभा चुनाव की मतगणना आज होगी. सात चरणों में संपन्न हुए दुनिया के इस सबसे बड़े लोकतांत्रिक अभ्यास में 90 करोड़ लोगों को मतदान करने का अधिकार था. साल 2014 के चुनाव के मुकाबले इस चुनाव में नौ करोड़ अधिक मतदाता थे. सभी चरणों में काफी मतदान हुआ.
लोकसभा चुनाव में पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल हुआ जिसमें 69.43 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने अधिकार का उपयोग किया. मतदान के दूसरे चरण (18 अप्रैल) और तीसरे चरण (23) में एक बराबर 66 प्रतिशत मतदान हुआ. चौथे चरण में 29 अप्रैल को 64 फीसदी मतदान हुआ. इसे बाद पांचवे चरण में 6 मई को 57.33 प्रतिशत और फिर छठे चरण में 63.3 प्रतिशत मतदान हुआ. अंतिम सातवें चरण में 62.87 प्रतिशत मतदान हुआ. अंतिम चरण के मतदान के बाद आए अधिकतर एक्जिट पोल के नतीजे बीजेपी की जीत का अनुमान लगाने वाले हैं. जबकि विपक्ष को जोरदार मतदान से सफलता की उम्मीद है.सन 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने कुल 543 में से 282 सीटें जीतकर संसद के निचले सदन में पूर्ण बहुमत हासिल किया था. एक्जिट पोलों में इस बार बीजेपी के इससे अधिक सीटें जीतने की संभावनाएं जताई गई थीं. इन एक्जिट पोलों के आधार पर किए गए पोल ऑफ पोल्स से अनुमान लगाया गया है कि बीजेपी 300 सीटों का आंकड़ा पार कर सकती है. पोल्स के अनुसार कांग्रेस इस बार पिछले चुनाव के मुकाबले अधिक सीटें जीत सकती है.
पिछले लोकसभा चुनाव में क्षेत्रीय पार्टियों पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस और तमिलनाडु की एआईएडीएमके ने अपनी अलग चमक दिखाई थी.
पश्चिम बंगाल की 42 सीटों में से ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस ने 34 सीटें जीती थीं. उधर तमिलनाडु की 39 लोकसभा सीटों में से स्वर्गीय जयललिता के नेतृत्व वाले दल एआईएडीएम ने 37 सीटों पर विजय हासिल की थी. एक्जिट पोल के मुताबिक पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस अब 42 में से 26 सीटें हासिल कर सकती है और बीजेपी की सीटों की संख्या दो अंकों में, 14 तक हो सकती है. पिछले चुनाव में इस राज्य में बीजेपी को दो सीटें मिली थीं. एक्जिट पोल कह रहे हैं कि तमिलनाडु में 26 सीटों के साथ डीएमके-कांग्रेस गठबंधन सबसे आगे रह सकता है.पोल ऑफ पोल्स में जताए गए अनुमान के मुताबिक उत्तरप्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन 29 सीटों पर जीत हासिल कर सकता है. बीजेपी 49 सीटों पर जीत सकती है. मतगणना पूरी होने के बाद 2019 के विजेताओं के नाम सामने आ जाएंगे. इसके बाद नए सांसदों की सूची सामने आएगी.

Advertisement