बिहार विधानसभा चुनाव 2020

बिहार चुनाव: पहले चरण के लिये 71 सीटों पर वोटिंग आज, 1066 प्रत्‍याशियों की किस्‍मत का होगा फैसला

बिहार चुनाव: पहले चरण के लिये 71 सीटों पर वोटिंग आज, 1066 प्रत्‍याशियों की किस्‍मत का होगा फैसला

Bihar Assembly Polls: पहले चरण में 2.14 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. इसमें से 1.01 करोड़ महिलाएं हैं और 599 तृतीय लिंगी हैं . चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों में 952 पुरूष और 114 महिलाएं हैं . गया शहर सीट पर सबसे अधिक 27 उम्मीदवार मैदान में हैं जबकि बांका जिले की कटोरिया सीट पर सबसे कम पांच उम्मीदवार हैं .

.................................. Advertisement ..................................



Countdown To Results

  • 73Days
  • 08Hours
  • 55Minutes
  • 21Seconds

बिहार विधानसभा की 243 सीटों पर 28 अक्टूबर, 3 नवंबर, 7 नवंबर को मतदान, मतगणना 10 नवंबर को

बिहार विधानसभा चुनाव, 2020 (Bihar Assembly Elections 2020) के लिए मतदान, तीन चरणों में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को करवाया जाएगा. चुनाव परिणाम (Bihar Election Results) 10 नवंबर को घोषित किए जाएंगे. चुनाव आयोग (Election Commission of India) द्वारा बिहार विधानसभा चुनाव, 2020 (Bihar Election 2020) के लिए राज्य में कुल 1,06,526 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं, जहां कुल 7,29,27,396 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. बिहार की 243-सदस्यीय विधानसभा (Bihar Assembly) का कार्यकाल 29 नवंबर, 2020 को समाप्त हो रहा है. उससे पहले नई सरकार का गठन अनिवार्य है.

कोरोनावायरस महामारी के बीच पूरी दुनिया में यह पहला बड़ा चुनाव है. इससे पहले पिछले साल के अंतिम माह में झारखंड और साल 2020 के फरवरी महीने में दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की पार्टी भारतीय जनता पार्टी (BJP) को हार का सामना करना पड़ा था. लोकसभा चुनाव 2019 में BJP और सहयोगी दलों JDU व LJP ने बिहार की 40 में से 39 संसदीय सीटों पर जीत हासिल की थी.

बिहार में वर्ष 2015 में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) और लालू प्रसाद यादव (Lalu Yadav) ने कांग्रेस के साथ मिलकर गठबंधन के तहत चुनाव जीता था और नीतीश कुमार राज्य के मुख्यमंत्री बने थे. लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) राज्य के उपमुख्यमंत्री बनाए गए थे. तेजस्वी का यह पहला चुनाव था. 2015 के चुनाव में आरजेडी (RJD) को 80 सीटें मिली थीं, जबकि नीतीश की पार्टी जेडीयू (JDU) को 71 सीटें मिली थीं. कांग्रेस (Congress) 27 सीटों पर जीत दर्ज कर सकी थी. इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) को मात्र 53 सीटें मिली थीं. वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव (Bihar Polls) में आरजेडी (RJD) को 18.4 प्रतिशत और जेडीयू (JDU) को 16.8 फीसदी वोट मिले थे. BJP 24.4 प्रतिशत वोट पाकर तीसरे स्थान पर रही थी, तथा कांग्रेस को सिर्फ 6.7 प्रतिशत वोट मिल पाए थे. चुनाव बाद महागठबंधन की सरकार बनी थी, लेकिन डेढ़ साल बाद नीतीश कुमार ने इस्तीफा देकर BJP के साथ मिलकर नई सरकार बना ली थी.