यह ख़बर 23 अक्टूबर, 2013 को प्रकाशित हुई थी

हर्षवर्धन भाजपा के मनमोहन सिंह हैं : केजरीवाल

हर्षवर्धन भाजपा के मनमोहन सिंह हैं : केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल का फाइल फोटो

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (आप) ने दिल्ली में भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार डॉ हर्षवर्धन पर अरविंद केजरीवाल ने करारा हमला करते हुए उन पर अपनी पार्टी शासित निगमों में कथित भ्रष्टाचार पर चुप्पी साधने का आरोप लगाया।

आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर पर कहा, ‘क्या दिल्ली भाजपा में हर्षवर्धन मनमोहन सिंह नहीं हैं?’

हर्षवर्धन की मनमोहन सिंह से तुलना करते हुए केजरीवाल ने लिखा, ‘भ्रष्ट कांग्रेस ने केंद्र में सिंह को अपना चेहरा बनाया। मनमोहन पार्टी एवं अपनी सरकार में भ्रष्टाचार रोक पाने में विफल रहे। भ्रष्ट भाजपा ने अब दिल्ली में हर्षवर्धन को अपना चेहरा बनाया है। हर्षवर्धन ने एमसीडी में भाजपा के भ्रष्टाचार को रोकने के लिए इन सालों में क्या किया।’

अनिश्चितता खत्म करने के लिए भाजपा के संसदीय बोर्ड ने प्रदेश अध्यक्ष विजय गोयल के कड़े विरोध के बावजूद आज हर्षवर्धन को दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया। गोयल ने इस पद के लिए दावेदारी की थी। दिल्ली में 4 दिसंबर को विधानसभा चुनाव हैं।

पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने यह घोषणा की और बताया कि यह फैसला सर्वसम्मत है तथा गोयल से भी सहमति ली गई। गोयल के बजाय हर्षवर्धन को भाजपा के मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने के पार्टी के फैसले पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘क्या भाजपा ने अब मान लिया है कि विजय गोयल भ्रष्ट हैं।’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

आप प्रवक्ता मनीष सिसौदिया ने कहा, ‘वर्ष 2010 में हर्षवर्धन ने दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की भूरि भूरि प्रशंसा की थी और कहा था कि दिल्लीवासी उन्हें बतौर मुख्यमंत्री पाकर खुशनसीब हैं। अब वह उनके खिलाफ क्यों चुनाव लड़ रहे हैं?’ उन्होंने कहा कि इससे भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में भाजपा की मंशा का पता चलता है।

उधर आप कार्यकर्ता कुमार विश्वास ने ट्विटर पर भाजपा की आलोचना की और कहा, ‘भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई यानी आपस में ही एक दूसरे से लड़ना है। विजय ही विजय है?’