ठाकरे परिवार से पहली बार चुनाव लड़ने वाले आदित्य को जीत का भरोसा, कहा- 'आपका आशीर्वाद साथ है तो...'

शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के बेटे आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) वर्ली विधानसभा सीट (Worli Assembly seat) से चुनाव लड़ेंगे.

ठाकरे परिवार से पहली बार चुनाव लड़ने वाले आदित्य को जीत का भरोसा, कहा- 'आपका आशीर्वाद साथ है तो...'

Maharashtra Election 2019: आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) वर्ली से लड़ेंगे चुनाव.

खास बातें

  • ठाकरे परिवार का कोई सदस्य पहली बार चुनाव लड़ेगा
  • आदित्य शिवसेना के टिकट पर वर्ली से चुनाव लड़ेंगे
  • पार्टी विधायक सुनील शिंदे अपना स्थान खाली करेंगे
नई दिल्ली:

शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के बेटे आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) वर्ली विधानसभा सीट (Worli Assembly seat) से चुनाव लड़ेंगे. ऐसा पहली बार होगा जब ठाकरे परिवार का कोई सदस्य चुनाव मैदान में उतर रहा है. आदित्य ठाकरे अभी शिवसेना की युवा शाखा, युवा सेना के प्रमुख हैं. आदित्य ठाकरे ने सोमवार को शिवसेना (Shiv Sena) के कार्यक्रम में चुनाव लड़ने की घोषणा भी की. उन्होंने चुनाव जीतने के लिए शिवसेना के कार्यकर्ताओं का आशीर्वाद मांगा. उन्होंने लोगों से कहा, 'मुझे जीत का भरोसा है, क्योंकि आप सभी का आशीर्वाद मेरे साथ है.' शिवसेना के मौजूदा विधायक सुनील शिंदे आदित्य के लिए अपना स्थान खाली करेंगे.

Shiv Sena सांसद संजय राउत बोले- 'चंद्रयान-2 भले ही चंद्रमा पर लैंड नहीं कर सका, लेकिन आदित्य ठाकरे...'

शिवसेना के एक सूत्र ने कहा, 'वर्ली को शिवसेना की सबसे सुरक्षित विधानसभा सीटों में से एक समझा जाता है, इसलिए आदित्य की उम्मीदवारी को अंतिम रूप दिया गया है. NCP के पूर्व नेता सचिन अहीर हाल में शिवसेना में शामिल हुए थे जो आदित्य ठाकरे की जीत को आसान बना सकते है.' अहीर को 2014 के विधानसभा चुनाव में सुनील शिंदे ने शिकस्त दी थी. दिवंगत बाल ठाकरे द्वारा 1966 में शिवसेना की स्थापना किए जाने के बाद से ठाकरे परिवार से किसी भी सदस्य ने कोई चुनाव नहीं लड़ा है या वे किसी भी संवैधानिक पद पर नहीं रहे हैं.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य वर्ली से लड़ेंगे चुनाव, ठाकरे परिवार का कोई सदस्य पहली बार मैदान में

उद्धव के चचेरे भाई और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) प्रमुख राज ठाकरे ने 2014 में राज्य में हुए विधानसभा चुनाव लड़ने की अपनी इच्छा जताई थी. हालांकि उन्होंने बाद में अपना मन बदल लिया था. उद्धव ठाकरे ने शनिवार को अपने उस 'वादे' को याद किया जो उन्होंने अपने दिवंगत पिता बाल ठाकरे से किया था. उन्होंने एक 'शिव सैनिक' (पार्टी कार्यकर्ता) को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाने का वादा किया था. 

'जन आशीर्वाद यात्रा' पर आदित्‍य ठाकरे, संजय राउत ने कहा- अगला मुख्‍यमंत्री शिवसेना से होगा 

बता दें कि महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव (Maharashtra Haryana Assembly Election) की तारीखों का चुनाव आयोग (Election Commission) ने हाल ही में ऐलान किया था. महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को मतदान होगा और मतगणना 24 अक्टूबर को होगी. नॉमिनेशन भरने की आखिरी तारीख 4 अक्टूबर को होगी और नामांकन वापस लेने की तारीख 7 अक्टूबर को होगी. लोकसभा चुनावों के बाद यह इस साल के पहले राज्य चुनाव हैं. हरियाणा विधानसभा का कार्यकाल 2 नवंबर को और महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल 9 नवंबर को खत्म हो रहा है.

Newsbeep

VIDEO: वर्ली विधानसभा सीट से उम्मीदवार होंगे आदित्य ठाकरे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट: भाषा से भी)