अरविंद केजरीवाल तीसरी बार बने दिल्ली के मुख्यमंत्री, शपथ ग्रहण समारोह की 10 खास बातें

आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और संस्थापक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली.

अरविंद केजरीवाल तीसरी बार बने दिल्ली के मुख्यमंत्री, शपथ ग्रहण समारोह की 10 खास बातें

अरविंद केजरीवाल तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बने हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और संस्थापक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. उनके साथ केजरीवाल सरकार के पिछले कार्यकाल के सभी मंत्री- मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन और राजेंद्र पाल गौतम ने भी मंत्री पद की शपथ ली. दिल्ली के रामलीला मैदान में शपथ ग्रहण कार्यक्रम आयोजित किया गया था. करीब 40 हजार लोग रामलीला मैदान पहुंचे थे. शपथ समारोह में AAP ने 50 आम लोगों को बतौर मुख्य अतिथि बुलाया था. इनमें बस कंडक्टर, बम मार्शल, किसान, शिक्षक, डॉक्टर, सफाई कर्मी व अन्य पेशों से जुड़े लोग शामिल थे. शपथ समारोह में भाषण देते हुए केजरीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि अन्य कार्यक्रम में व्यस्त होने की वजह से पीएम शपथ समारोह में शिरकत नहीं कर सके. शपथ समारोह के लिए दिल्ली से बीजेपी के सातों सांसदों को भी आमंत्रित किया गया था लेकिन वह नहीं पहुंचे.

अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह की 10 खास बातें

  1. अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में इस बार किसी भी राज्य के मुख्यमंत्री को आमंत्रित नहीं किया गया था. AAP ने शपथ समारोह में दिल्ली की जनता को आमंत्रित किया था. रामलीला मैदान में रविवार सुबह से ही AAP कार्यकर्ताओं और जनता का पहुंचना शुरू हो गया था.

  2. दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल ने अरविंद केजरीवाल को मुख्यमंत्री पद की व 6 AAP विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई. केजरीवाल ने कैबिनेट में कोई बदलाव नहीं किया है. पिछले कार्यकाल के सभी मंत्रियों को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है.

  3. इस बार भी अरविंद केजरीवाल के कैबिनेट में मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन और राजेंद्र पाल गौतम ही शामिल किए गए हैं.

  4. अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करने के बाद जनता को संबोधित करते हुए कहा, "आज आपके बेटे ने तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. यह मेरी जीत नहीं, आप लोगों की जीत है. यह हर दिल्ली वाले की जीत है. यह हर मां, हर बहन, हर युवा, हर विद्यार्थी की जीत है."

  5. उन्होंने कहा, "यह दिल्ली के हर परिवार की जीत है. पिछले पांच सालों में हमारी यही कोशिश रही है कि किस तरह हर दिल्ली वाले की ज़िन्दगी में खुशहाली, कुछ राहत ला सकें. पिछले पांच सालों में हमारी यही कोशिश रही है कि किस तरह दिल्ली के हर शख्स का तेज़ी से विकास हो, और आने वाले पांच सालों में भी हमारी यही कोशिश रहेगी."

  6. अरविंद केजरीवाल ने कहा, "आपने किसी को भी वोट दिया हो, लेकिन मैं सभी का मुख्यमंत्री हूं. AAP को वोट देने वालों का भी, BJP को वोट देने वालों का भी, कांग्रेस को वोट देने वालों का भी."

  7. अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करने के बाद जनता को संबोधित करते हुए कहा, "चुनाव प्रचार के दौरान हमारे खिलाफ बोलने वाले विरोधियों को आज हमने माफ कर दिया है."

  8. दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने कहा, "केंद्र सरकार के साथ मिलकर दिल्ली को आगे ले जाना चाहता हूं. दिल्ली को दुनिया का नंबर एक शहर बनाना चाहता हूं."

  9. बता दें कि दिल्ली में 8 फरवरी को 70 विधानसभा सीटों के लिए वोट डाले गए थे. 11 फरवरी को नतीजों का ऐलान हुआ. AAP ने 62 सीटों पर जीत दर्ज की और बहुमत हासिल किया. बीजेपी ने 8 सीटों पर कब्जा जमाया और कांग्रेस खाता खोलने में भी नाकाम रही.

  10. रविवार को होने वाले शपथ ग्रहण कार्यक्रम से पहले शनिवार रात अरविंद केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन और राजेंद्र पाल गौतम को अपने आवास पर डिनर के लिए बुलाया था. इस दौरान उन्होंने दिल्ली के विकास को लेकर कई योजनाओं पर चर्चा की.



 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com