Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

अरविंद केजरीवाल फिर बने 'आप' के मुख्यमंत्री, कहा, कांग्रेस-बीजेपी अहंकार के कारण हारे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

नई दिल्ली : शनिवार को दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत हासिल करने वाले आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की। उपराज्यपाल नजीब जंग ने उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई, जो उन्होंने हिन्दी में ली।

अरविंद के साथ उनके सबसे करीबी सहयोगी मनीष सिसोदिया ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की। उनके अतिरिक्त असीम अहमद खान, संदीप कुमार, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय तथा जितेंद्र सिंह तोमर ने मंत्रियों के रूप में पद एवं गोपनीयता की शपथ ग्रहण की।

सीएम अरविंद केजरीवाल के पास कोई मंत्रालय नहीं है। मनीष सिसोदिया को डिप्टी सीएम, वित्त, शिक्षा, प्लानिंग, राजस्व मंत्रालय दिया गया है। संदीप कुमार को महिला, बाल विकास, समाज कल्याण, SC/ST मंत्रालय मिला है। आसिम अहमद ख़ान को खाद्य-आपूर्ति मंत्रालय और जीतेंद्र तोमर को क़ानून, पर्यटन मंत्रालय, सत्येंद्र जैन को पावर, स्वास्थ्य, पीडब्ल्यूडी मंत्रालय और गोपाल राय को परिवहन, विकास, श्रम मंत्रालय दिया गया है।

केजरीवाल की पिछली सरकार में मंत्री रहे सौरभ भारद्वाज, सोमनाथ भारती, राखी बिड़लान और गिरीश सोनी को इस बार मंत्री नहीं बनाया गया है।

अरविंद ने शपथ ग्रहण के बाद जनता को संबोधित किया, जिसमें उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात का पूरा भरोसा है कि दिल्ली पांच साल में ही पूरी तरह भ्रष्टाचारमुक्त हो जाएगी। उन्होंने कहा, दिल्ली में आज से ही रिश्वतखोरी बंद हो जाएगी, और पांच साल में पूरी तरह दिल्ली को भ्रष्टाचारमुक्त बना देंगे। उन्होंने वादा किया कि जल्द से जल्द लोकपाल बिल पास करेंगे।

उन्होंने जनता का धन्यवाद देते हुए कहा, "पूरे एक साल के बाद आम आदमी की सरकार बनी है... पिछली बार आठ सीटें कम रह गई थी, दिल्ली की जनता ने इस बार पूर्ण बहुमत दिया... मुझे पता था, दिल्ली के लोग हमें प्यार करते हैं, लेकिन यह नहीं पता था कि इतना प्यार करते हैं... 70 में से 67 सीटें... दोस्तों, लगता है, ऊपरवाले की कोई खास मंशा है..."

अरविंद ने कहा, "हम भाग्यशाली हैं कि ऊपरवाले ने हमें माध्यम चुना... जब इतनी बड़ी सफलता मिलती है, इंसान के मन में अहंकार जागता है, जिससे कुछ भी नहीं बचता... हमें खुद को टटोलते रहना होगा कि हमारे भीतर अहंकार नहीं जागे... लोकसभा चुनाव में हम अहंकार की वजह से हारे थे... दिल्ली में कांग्रेस को लोगों ने अहंकार की वजह से हराया... दिल्ली में बीजेपी को भी लोगों ने अहंकार की वजह से हराया..."

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं के बारे में उन्होंने जनता को आश्वासन दिया, "टोपी पहनकर बदमाशी करने वाला आम आदमी पार्टी का नहीं हो सकता... टोपी पहनकर बदमाशी करने वाले को बख्शना मत, दोगुनी सज़ा देना..."

जनता से उनके सपने पूरे करने के लिए लगातार काम करने का आश्वासन देते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, "हम लोग 24-24 घंटे काम करेंगे, पक्का काम करेंगे... हमने शपथ का भी इंतज़ार नहीं किया, नतीजे आते ही काम पर लग गए थे... आज भी बुखार है, क्रोसिन खाकर आया हूं..."

केंद्र सरकार के साथ सकारात्मक सहयोग की इच्छा जताते हुए केजरीवाल ने कहा, "मैंने प्रधानमंत्री जी से यही कहा, इससे सुनहरा मौका नहीं हो सकता... दिल्ली में मेरे पास, केंद्र में आपके पास पूर्ण बहुमत हैं, यदि दोनों चाहें तो दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिल जाएगा... पीएम से कहा, प्रधानमंत्री के तौर पर वह बहुत व्यस्त हैं... दिल्ली की समस्याएं मुझ पर छोड़ दें... पीएम साथ देंगे तो दिल्ली को मिलेगा पूर्ण राज्य का दर्जा..."

सबके साथ मिलकर दिल्ली का विकास करने के मुद्दे पर अरविंद ने कहा, "जिन तीन सीटों पर हमारे विधायक नहीं हैं, उन्हें भी अपना ही विधायक मानेंगे... पूरी दिल्ली हमारा ही बूथ है, हम बूथवार समर्थन का विश्लेषण नहीं करेंगे..." उन्होंने सभी पार्टियों का भी साथ मांगा, और कहा, "किरण बेदी जी की बहुत इज़्ज़त करता हूं... चुनाव में जीत-हार चलती रहती है, किरण बेदी मेरी बड़ी बहन जैसी हैं, उनसे सलाह लेकर काम करेंगे... अजय माकन जी को नीतियां बनाने का लम्बा अनुभव है, उनसे भी सलाह लेंगे... सब अच्छे लोगों के साथ मिलकर दिल्ली को ऐसा शहर बनाना है, जिस पर अमीर-गरीब सभी गर्व कर सकें... आज मैं नहीं, दिल्ली का प्रत्येक नागरिक दिल्ली का मुख्यमंत्री बना है..."

भ्रष्टाचार को खत्म करने का वादा करते हुए उन्होंने कहा, "वादा है, कोई भी सरकारी विभाग आपसे कोई पैसे नहीं लेगा, बस, आप लोग पूरा टैक्स भरें... वादा करता हूं, टैक्स के पैसे की चोरी नहीं होने दूंगा... सरकारों के पास पैसे की नहीं, नीयत की कमी रही है, क्योंकि जनता को गले लगा लेने से विकास खुद-ब-खुद हो जाता है..."

उन्होंने वीआईपी कल्चर को खत्म करने की भी बात कही। उन्होंने कहा, "हमने 49 दिन की सरकार में भी वीआईपी कल्चर खत्म करने की कोशिश की थी... मीडिया के साथियों से हाथ जोड़कर अनुरोध है, मज़ाक मत उड़ाइए... आप ही बताइए, सरकारी गाड़ी लिए बिना काम कैसे करेंगे मंत्री..."

अरविंद केजरीवाल ने भारतीय क्रिकेट टीम को भी आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2015 में जीत के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

अंत में, उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना करते हुए कहा, "हे प्रभु, हमें सद्बुद्धि दो, सही निर्णय लेने की क्षमता देना... देश के लिए तन-मन-धन न्योछावर करने के जज़्बे को बरकरार रखना..." अरविंद ने एक प्रार्थना भी गाई, और जनता से दोहराने को कहा, "इंसान का इंसान से हो भाईचारा... यही पैगाम हमारा..."

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... कमल हासन की फिल्म के सेट पर हादसा, 3 असिस्टेंट डायरेक्टर्स की मौत जबकि 9 लोग घायल

Advertisement