अखिलेश बोले - मोदी का एक रोडशो फेल, तभी कर रहे दूसरा रोडशो

अखिलेश बोले - मोदी का एक रोडशो फेल, तभी कर रहे दूसरा रोडशो

खास बातें

  • आखिर कितने रोड शो करेंगे पीएम मोदी- अखिलेश
  • 'पीएम मन की बात कहते हैं, लेकिन यह किसी के समझ में नहीं आता'
  • पूरी केंद्र सरकार वाराणसी में शिफ्ट हो गई- आजम
सोनभद्र / रामपुर:

उत्तर प्रदेश की जनता से भाजपा और बसपा दोनों से सावधान रहने की अपील करते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शनिवार को उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी का रोड शो फ्लॉप हो गया और इसी वजह से उन्हें दोबारा रोडशो करना पड़ रहा है. अखिलेश ने सोनभद्र में एक चुनावी सभा में कहा, 'परीक्षा वही देता है, जो फेल होता है. (मोदी का) एक रोड शो फेल हो गया, इसलिए दूसरा कर रहे हैं... कितने रोड शो करेंगे?' उन्होंने कहा कि हम लैपटाप और स्मार्ट फोन की बात करते हैं, लेकिन भाजपा वाले कब्रिस्तान और श्मशान की बातें कह रहे हैं.

वहीं समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने प्रधानमंत्री मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि वह वाराणसी में ऐसे प्रचार कर रहे हैं, जैसे कि वह 'नुक्कड़ नेता' हों और वह असल में शहर को देश की राजधानी में तब्दील करने में लगे हैं. आजम खान ने आरोप लगाया कि समूची केंद्र सरकार शहर में स्थानांतरित हो गई है. आजम खान ने शनिवार रात को रामपुर में संवाददाताओं से कहा, 'प्रधानमंत्री नुक्कड़ नेता की तरह वाराणसी में डटे हुए हैं. फिर भी भाजपा को वहां एक सीट भी नहीं मिलेगी.

Newsbeep

वहीं अखिलेश ने रविवार को चुनावी रैली में पीएम मोदी पर हमला जारी रखते हुए कहा, 'मिर्जापुर में प्रधानमंत्री कह गए कि हर चीज में रेट चलता है. शिकायत में रेट, नौकरी में रेट, इसमें रेट, उसमें रेट... हम कहते हैं कि एक चीज का रेट बता दीजिए जो आप कहेंगे, हम मान लेंगे। हम तो रेट जानना चाहते हैं लेकिन वो नहीं बता रहे हैं.' उन्होंने मोदी और भाजपा से सावधान रहने की अपील दोहराते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को काम की बात करनी चाहिए लेकिन वह 'मन की बात' करते हैं और उनके मन की बात कोई नहीं समझा है. हमने कहा कि काम की बात कीजिए तो पीछे भाग रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि केंद्र की एनडीए सरकार में बीजेपी की सहयोगी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने भी शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो करने पर आपत्ति प्रकट करते हुए कहा कि उनके उच्च पद के लिहाज से यह उचित नहीं है और उन्हें केवल रैलियां करनी चाहिए.
(इनपुट एजेंसियों से)