इलाहाबाद: अखिलेश-राहुल की रैली के लिए तैयार मंच गिरा, बाल-बाल बचे

इलाहाबाद: अखिलेश-राहुल की रैली के लिए तैयार मंच गिरा, बाल-बाल बचे

अखिलेश यादव और राहुल गांधी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • अमित शाह ने भी इलाहाबाद में रोड शो किया
  • दोनों पक्षों के शक्ति प्रदर्शन में भारी भीड़ उमड़ी
  • 23 फरवरी को चौथे चरण में यहां डाले जाएंगे वोट
लखनऊ:

यूपी चुनावों में चौथे प्रचार के आखिरी दिन इलाहाबाद में सपा-कांग्रेस गठबंधन के तहत अखिलेश यादव और राहुल गांधी रोड शो के बाद मंच साझा करने वाले थे. मंच पूरी तरह तैयार था लेकिन अचानक वह भरभरा कर गिर गया. गनीमत यह रही कि दोनों नेता उस वक्‍त मंच पर मौजूद नहीं थे. दरअसल इलाहाबाद में रोड शो के बाद इन दोनों नेताओं को एक रैली को संबोधित करना था. उसी रैली के लिए मंच को सजाया गया था लेकिन बताया जाता है कि उस पर भीड़ अधिक एकत्र होने के कारण ये हादस हुआ. हालांकि कहा जा रहा है कि मंच गिरने से किसी को गंभीर चोट नहीं आई है. हालांकि मंच गिरने के बाद दोनों नेता वहां नहीं पहुंचे.  

इलाहाबाद में मंगलवार को ही बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने भी रोड शो किया. बीजेपी ने भी जमकर शक्ति प्रदर्शन किया. दोनों ही पक्षों के नेता कुछ दूरी पर ही अपने चुनावी कार्यक्रम को अंजाम दे रहे थे. दोनों ही तरफ से जमकर किए गए शक्ति प्रदर्शन और रोड शो में भारी भीड़ एकत्र हुई.

इससे पहले राहुल गांधी ने सोमवार शाम जिले के यमुनापार क्षेत्र कोरांव में एक रैली करने के बाद यहां ऐतिहासिक स्वराज भवन में रात बिताई. स्वराज भवन उनकी दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जन्म स्थल है. मंगलवार दोपहर उनके रोड शो में अखिलेश यादव भी शामिल हो गए. यह रोड शो आनंद भवन के पास से शुरू हुआ.

एक मर्सिडीज बस में ऊपर बैठे इन युवा नेताओं का कांग्रेस और सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के भारी तादाद में युवा समर्थकों द्वारा स्वागत किया और नारे लगाए. जैसे ही ये लोग इलाहाबाद विश्वविद्यालय की तरफ बढे, विद्यार्थियों के बीच उत्साह देखने को मिला.

इस शहर में कांग्रेस-सपा गठबंधन की ओर से दो उम्मीदवार अनुग्रह नारायण सिंह (इलाहाबाद उत्‍तर) और रिचा सिंह (इलाहाबाद पश्चिम) खड़े किए गए हैं. रिचा सिंह इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र संघ की पूर्व अध्यक्ष रही हैं.

Newsbeep

उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता किशोर वार्ष्‍णेय ने कहा कि स्टेशन रोड पर इस रोड शो की समाप्ति पर इन दोनों नेताओं ने बहुत लघु भाषण दिया जिसमें उन्होंने कहा कि उत्‍तर प्रदेश में अगली सरकार बनाएंगे और उनके गठबंधन से गति बनी है उससे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विचलित हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसी तरह का एक रोड शो भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा किया गया. उन्होंने सोरांव में एक रैली के साथ यह रोड शो शुरू किया और इसके बाद पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सिद्धार्थ नाथ सिंह के समर्थन में शहर की मुंडेरा मंडी में एक जनसभा को संबोधित किया. सिद्धार्थ नाथ सिंह को इलाहाबाद (पश्चिम) सीट से भाजपा उम्मीदवार के तौर पर खड़ा किया गया है. इलाहाबाद में 12 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव 23 फरवरी को कराए जाएंगे.
(इनपुट समाचार एजेंसी भाषा से भी )