बीजेपी के नेता आसाराम के चेले-चपाटी हैं, यूपी में इनकी कहीं लहर नहीं : लालू प्रसाद यादव

बीजेपी के नेता आसाराम के चेले-चपाटी हैं, यूपी में इनकी कहीं लहर नहीं : लालू प्रसाद यादव

लालू यादव ने मंत्री अब्दुल जलील मस्तान के प्रधानमंत्री पर दिए गए बयान को लेकर कड़ी आपत्ति जताई है

पटना:

बिहार में सत्ताधारी महागठबंधन में सबसे बड़े घटक दल राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने बिहार के मंत्री अब्दुल जलील मस्तान के प्रधानमंत्री पर दिए गए बयान को लेकर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि उनके विरोध का तरीका सही नहीं है. लालू ने रसोई गैस की कीमत बढ़ाने पर प्रधानमंत्री पर तंज भी कसा.

पूर्व मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से बातचीत में मंत्री मस्तान द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध के तरीके पर सवाल उठाते हुए कहा कि वे भी विरोध करते हैं. विरोध का एक तरीका होता है. कांग्रेस पार्टी को इस मामले को देखना चाहिए. उन्होंने कहा कि मंत्री मस्तान के बयान को उन्होंने मीडिया में देखा है. यह आपत्तिजनक है. सभी दलों एवं नेताओं ने उसकी निंदा की है.

लालू प्रसाद यादव ने रसोई गैस की कीमत बढ़ाने पर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा और मूल्य वृद्धि पर आपत्ति जताई. उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) की जीत का दावा करते हुए और खुद को 'चुनाव का डॉक्टर' बताते हुए एक अन्य ट्वीट में पूर्व केंद्रीय मंत्री ने लिखा, "मैं चुनाव का डॉक्टर हूं, भाजपा कम्पाउंडर और अमित शाह ड्रेसर हैं. ये सब आसाराम के चेले-चपाटी हैं. सपा गठबंधन बहुमत से जीत रहा है. गजब की लहर है."
बता दें कि पूर्णियां में 22 फरवरी को एक कार्यक्रम का वीडियो वायरल होने के बाद बिहार की राजनीति गरमा गई है. वीडियो में राज्य के मंत्री अब्दुल जलील मस्तान को प्रधानमंत्री को 'डकैत' और 'नक्सली' कहते तथा अपने कार्यकर्ताओं को उनकी तस्वीर पर जूते और चप्पलों से मारने के लिए उकसाते दिखाया गया है. इसके बाद से विपक्ष मंत्री की बर्खास्तगी की मांग कर रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट आईएएनएस से भी)