Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

योगी आदित्‍यनाथ को यूपी का मुख्‍यमंत्री चुने जाने पर आपस में भिड़ीं बीजेपी और कांग्रेस

ईमेल करें
टिप्पणियां
योगी आदित्‍यनाथ को यूपी का मुख्‍यमंत्री चुने जाने पर आपस में भिड़ीं बीजेपी और कांग्रेस

मीडिया से रूबरू योगी आदित्‍यनाथ और वेंकैया नायडू

नई दिल्‍ली: उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री हिंदुत्व समर्थक योगी आदित्यनाथ को चुने जाने पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली ने शनिवार को कहा कि यह धर्मनिरपेक्षता पर ‘सबसे बड़ा हमला’ है, हालांकि पार्टी की आधिकारिक प्रतिक्रिया में कहा गया कि पार्टी लोगों के हितों के प्रहरी के रूप में काम करेगी. वहीं, भाजपा योगी के साथ खड़ी नजर आई और इस बात पर जोर दिया कि ‘वह (योगी) विकास के पक्ष में हैं.’ मोइली ने कहा, ‘‘यह देश में धर्मनिरपेक्षता पर एक बड़ा हमला है. हो सकता है, भाजपा या आरएसएस हिंदुत्व के अपने उद्देश्य का समर्थन करना पसंद करे. भारत हिंदुत्व नहीं है. हिंदुत्व भारत नहीं है.’’ उन्होंने कहा कि भारत का निर्माण जाति और धर्म से परे हुआ है तथा वसुधैव कुटुंबकम हमारे धर्मनिरपेक्ष समाज की बुनियाद है. धर्मनिरपेक्षता पर हुआ यह अब तक का सबसे बड़ा हमला है.

कांग्रेस के संचार विभाग के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी लोगों के हितों की प्रहरी के रूप में काम करना जारी रखेगी और यूपी की प्रगति में एक रचनात्मक भूमिका निभाएगी.’’ उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चुनने का विशेषाधिकार सत्तारूढ़ पार्टी में निहित है. उन्होंने कहा कि किसी निष्कर्ष तक पहुंचने में बहुत अधिक देर करने और उप मुख्यमंत्री के दो पद सृजित करने की मजबूरी से यह भी जाहिर होता है कि 300 से अधिक विधायकों का समर्थन होने के बावजूद सत्ता साझेदारी के लिए संघर्ष हुआ.

हालांकि, गोरखपुर से पांच बार सांसद रहे 44 वर्षीय योगी की हिंदुत्व समर्थक कट्टर छवि से सहमति नहीं जताते हुए भाजपा प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, ‘‘यह छवि मीडिया के पास हो सकती है लेकिन उन्हें बार बार चुना गया है. वह विकास के पक्ष में हैं और यही एजेंडा हमने पाया है तथा हम इस एजेंडा पर अडिग रहेंगे.’’ कई अन्य नेताओं ने कहा कि आदित्यनाथ राज्य को विकास के रास्ते पर ले जाएंगे और इसे उत्तम प्रदेश बनाएंगे.

भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव ने कहा कि उनके तहत राज्य में विकास के नये आयाम स्थापित होंगे. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यूपी को उनके सक्षम नेतृत्व से काफी फायदा होगा और जल्द ही यह उत्तम प्रदेश बन जाएगा. चौहान ने ट्वीट किया, ‘‘लोगों के कल्याण के आदित्यनाथ के दर्शन से राज्य के हर नागरिक को फायदा होगा और हर किसी को साथ लेकर चला जाएगा. सभी का विकास होगा.’’

नरेन्द्र मोदी सरकार के एकमात्र मुस्लिम मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भाजपा द्वारा यूपी के मुख्यमंत्री के रूप में आदित्यनाथ को चुने जाने का बचाव करते हुए कहा कि वह (योगी) पार्टी की समावेशी वृद्धि के एजेंडा पर काम करेंगे. नकवी ने कहा, ‘‘मैं उन्हें बधाई देता हूं. वह लंबे समय से सार्वजनिक जीवन में रहे हैं. वह उत्तर प्रदेश में समावेशी वृद्धि के प्रधानमंत्री के वादे को साकार करेंगे. निश्चित रूप से वह राज्य के सबसे अच्छे मुख्यमंत्री साबित होंगे.’’ नकवी ने इन बातों को खारिज कर दिया कि योगी एक हिंदू कट्टरपंथी हैं. उन्होंने कहा कि वह समावेशी विकास के कट्टर नेता हैं जो उनके बारे में आशंका रखने वाले राजनीतिक पंडितों और विश्लेषकों को गलत साबित कर देंगे.

सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने योगी को मुख्यमंत्री चुने जाने पर सावधानीपूर्वक प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘‘उनके चुने जाने पर मैं उन्हें बधाई देता हूं. हम छह महीने इंतजार करेंगे और देखेंगे. हम आशा करते हैं वह अपनी सोच बदलेंगे और हिंदुओं एवं मुसलमानों के बीच विभाजन पैदा करने से परहेज करेंगे. यदि वह ऐसा करते हैं तो हम लोगों के बीच जाएंगे और उनका विरोध करेंगे.’’

माकपा नेता वृंदा करात ने योगी के मुख्यमंत्री चुने जाने को आरएसएस के एजेंडा का हिस्सा बताया. उन्होंने कहा, ‘‘यह स्पष्ट रूप से आरएसएस का एजेंडा है और यूपी इसके लिए नयी प्रयोगशाला है. चूंकि यह आरएसएस की जीत (यूपी चुनाव में) है, इसलिए इसने मुख्यमंत्री चुना है.’’ उन्होंने कहा कि इस भद्र पुरुष का आपराधिक रिकॉर्ड है. प्रदेश की विभिन्न अदालतों में उन पर दंगा करने और कई अन्य गंभीर अपराध के आरोप हैं.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement