NDTV Khabar

गायत्री प्रजापति के फरारी के प्रश्न : मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मीडिया से बोले - कैमरा लेकर मेरे घर चलो और देखो गायत्री है या नहीं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गायत्री प्रजापति के फरारी के प्रश्न : मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मीडिया से बोले - कैमरा लेकर मेरे घर चलो और देखो गायत्री है या नहीं

यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव...

खास बातें

  1. यूपी के मंत्री गायत्री प्रजापति गैंगरेप के मामले में फरार हैं
  2. कुछ दिन पहले तक बड़े आराम से चुनाव प्रचार में देखे जा रहे थे
  3. उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस बारे में गिरफ्तारी की जहमत नहीं उठाई.
लखनऊ:

यूपी के मंत्री गायत्री प्रजापति गैंगरेप के मामले में फरार हैं और पुलिस उनकी तलाश कर रही है. कुछ दिन पहले तक बड़े आराम से चुनाव प्रचार में देखे जा रहे थे और उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस बारे में गिरफ्तारी की जहमत नहीं उठाई. अब जब पुलिस उन्हें ढूंढ रही है तब से  वह फरार हैं. शुक्रवार को लखनऊ में उनके फरार होने के प्रश्न पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मीडिया से कहा कि सब लोग कैमरा लेकर मेरे घर चलो और देखो गायत्री है कि नहीं. सीएम ने कहा कि इस मामले में सरकार हर तरह से मदद करेगी और न्याय होगा.

उल्लेखनीय है कि बीजेपी ने कहा था, गायत्री प्रजापति सीएम के घर में छिपे हैं. वहीं, उनके विदेश भागने की भी आशंका जताई जा रही है. इसके लिए एयरपोर्ट्स को अलर्ट कर दिया गया है. बता दें कि गायत्री प्रजापति रेप के मामले में आरोपी हैं.

पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि पीएम चाहें तो 100 नंबर मिलाएं और फिर चेक करें कि पुलिस आती है या नहीं?'' ''पीएम ने हावर्ड यूनिवर्सिटी और हार्ड वर्क की बात की, हम पूछते हैं कि आपने हार्डली कोई क‍ाम किया हो तो बताओ?''


अखिलेश यादव  ने कहा कि वादाखिलाफी भी भ्रष्टाचार है. पीएम कब्रिस्तान और श्मशान की बात कर रहे हैं, हम लैपटॉप और स्मार्टफोन की बात कर रहे हैं. पीएम कैशलेस की बात करते हैं और उनके मंत्री कालेधन से कचौड़ी खा रहे हैं. कोई मोबाइल बैंकिंग से पेमेंट नहीं कर रहा है.'' बीजेपी बताए कि उसने क्या किया?

टिप्पणियां

अखिलेश ने कहा, ''हमने लोहिया आवास दिया है, पीएम ने कौन सा आवास दिया है? हमने गंगा पर 8 लेन पुल बनाया है. जो ये बात कही जा रही है कि यूपी में नौकरी में, पेंशन में रेट चलता है तो बतौर सीएम मुझे बताया जाए कि क्या रेट चल रहा है. मैं उसे खत्म करने की कोशिश करूंगा.''

सीएम ने दावा किया कि हमने यूपी में 32 हजार पुलिसभर्ती की. इससे पहले 40 हजार लोगों को भर्ती किया. बीजेपी कह रही है कि लैपटॉप हमने अपने लोगों को दिया है. मैं हर वर्ग के बच्चों का नाम बता सकता हूं, जिन्हें हमने लैपटॉप दिया है.''
''बनारस में इतनी बड़ी संख्या में केंद्रीय मंत्री उतरे हैं. वे बताएं कि उनके विभाग ने क्या काम किया है? रेल मंत्री बताएं कि पटरी आईएसआई ने काटी या फिर इंजीनियर की गलती से ऐसा हुआ.''



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement