NDTV Khabar

भाजपा, कांग्रेस ने त्रिशंकु विधानसभा के बाद गोवा सरकार गठित करने के लिए रणनीति बनानी आरंभ की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भाजपा, कांग्रेस ने त्रिशंकु विधानसभा के बाद गोवा सरकार गठित करने के लिए रणनीति बनानी आरंभ की

गोवा में वोट करने के बाद उंगली दिखाते हुए मनोहर पर्रिकर...

पणजी: गोवा विधानसभा चुनावों में खंडित जनादेश आने के बाद भाजपा और कांग्रेस विधायक दल अपने अपने नेताओं को लेकर निर्णय लेने और राज्य में सरकार बनाने की रणनीतियां बनाने के लिए आज बैठक करेंगे. भाजपा के राज्य महासचिव सदानंद तनावडे ने कहा, ‘‘भाजपा विधायक दल दोपहर को मुलाकात करेगा. हम अगली सरकार गठित करने की संभावना तलाशेंगे.’’ सूत्रों ने बताया कि भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर इस बैठक में शामिल होंगे.

कांग्रेस विधायक दल आज बैठक करेगा. अखिल भारतीय कांग्रेस समिति सचिव गिरीश चोडनकर ने कहा कि बैठक के बाद पार्टी के सरकार गठन का दावा करने की संभावना है क्योंकि पार्टी ने विधानसभा में 17 सीटों पर जीत हासिल की है.

40 सदस्यीय सदन में भाजपा ने 13 सीटों पर जीत हासिल की. महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी (एमजीपी), गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) और निर्दलीय उम्मीदवारों ने तीन-तीन सीटें जीतीं और राकांपा के खाते में एक सीट गई. आगामी सरकार के गठन में गोवा फॉरवर्ड पार्टी एवं महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी के निर्णायक भूमिका निभाने की संभावना है. एमजीपी ने चुनाव से पहले भाजपा के साथ संबंध तोड़ लिया था.

जीएफपी ने अभी तक अपनी रणनीति का खुलासा नहीं किया है. उसके प्रवक्ता दुर्गादास कामत ने कहा कि पार्टी स्थिति पर चर्चा के लिए आज मुलाकात करेगी. कांग्रेस और भाजपा सरकार गठन के लिए आवश्यक 21 सीटों का आंकड़ा छूने के लिए क्षेत्रीय ताकतों को लुभाने की कोशिश कर सकती है. निर्दलीय उम्मीदवार रोह खंटे ने कांग्रेस के समर्थन से पोरवोरिम सीट जीती है. इस तरह कांग्रेस के पास एक निर्दलीय उम्मीदवार का समर्थन है तथा उसे तीन और विधायकों की आवश्यकता है.

भाजपा के समर्थन से चुनाव जीतने वाले निर्दलीय उम्मीदवार गोविंद गावडे की जीत से भाजपा के पास 14 विधायक हैं. पार्टी को सत्ता बरकरार रखने के लिए सात और विधायकों की जरूरत है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement