NDTV Khabar

गरीबों ने मोदी सरकार को अपना माना, कांग्रेस का जमीन पर अब कोई वजूद नहीं : अरुण जेटली

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. 'नोटबंदी गरीबों के हित में थी, इस फैसले का कहीं विरोध नहीं'
  2. 'नोटबंदी का विरोध करके कांग्रेस गरीबों से कट गई'
  3. 'यूपी में सपा सरकार का कोई विकास मॉडल था ही नहीं'
नई दिल्ली: यूपी और उत्तराखंड विधानसभा चुनावों में ऐतिहासिक जीत पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की विश्वसनीयता और जनता में उनकी स्वीकृति इन चुनावों में पार्टी की जीत की बड़ी वजह रही. साथ ही पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने काफी संगठित तरीके से चुनाव प्रचारों का संचालन किया.

जेटली ने कहा कि पीएम मोदी के निर्णय लेने की क्षमता, उसे लागू करने और देश को ईमानदार सरकार देने की क्षमता से सरकार की साख बढ़ी है. सरकार की एक के बाद एक नीतियां ऐसी रहीं, जो गरीबों को मोदी जी और सरकार के साथ जोड़ती गई. जनधन योजना, मुद्रा योजना, उज्ज्वला योजना, घरों में शौचालयों, गांवों में सड़कों का निर्माण जैसी कई योजनाओं की वजह से देश के गरीबों ने मोदी सरकार को अपना माना और बीजेपी के परंपरागत वोटों में बड़ी तादाद में नए वोट जुड़ते चले गए. इससे बीजेपी का जनाधार काफी विस्तृत हो गया. वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि नोटबंदी गरीबों के हित में थी और इसे फैसले का कहीं विरोध नहीं है.

टिप्पणियां
जेटली ने यूपी में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत पर कहा, हम तो चाहेंगे कि राम मंदिर (अयोध्या में) बने. सपा-कांग्रेस गठबंधन के बारे में जेटली ने कहा कि यूपी में समाजवादी पार्टी का कोई विकास मॉडल था ही नहीं. वहीं कांग्रेस का जमीन पर कोई वजूद नहीं है और नोटबंदी का विरोध करके कांग्रेस गरीबों से कट गई.

पंजाब चुनावों में बेशक अकाली दल-बीजेपी गठबंधन को कांग्रेस के हाथों करारी मात मिली है, लेकिन जेटली ने दावा किया कि पंजाब में आप से ज्यादा वोट भाजपा को मिले हैं. उल्लेखनीय है कि राज्य में आप दूसरे नंबर की पार्टी के रूप में सामने आई है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement