पंजाब विधानसभा चुनाव 2017 : आम आदमी पार्टी को झटका, उम्मीदें नहीं चढ़ पाईं परवान

पंजाब विधानसभा चुनाव 2017 : आम आदमी पार्टी को झटका, उम्मीदें नहीं चढ़ पाईं परवान

पंजाब विधानसभा चुनाव परिणाम 2017 : आम आदमी पार्टी को नहीं मिल पाई उम्मीद के मुताबिक सफलता..

नई दिल्ली:

पंजाब विधानसभा के चुनाव कांग्रेस पार्टी के लिए संजीवनी बनकर आए हैं. पार्टी को हुए पांच राज्यों में से रुझानों में उत्तराखंड जहां हाथ से निकल रहा है वहीं मणिपुर और गोवा में थोड़ा उम्मीद बनाए हुए हैं. पंजाब चुनाव के रुझान आम आदमी पार्टी के लिए उम्मीद के मुताबिक नहीं आए हैं. पार्टी फिलहाल दूसरे स्थान पर है. ये रुझान एग्जिट पोल से बिल्कुल आए हैं. एग्जिट पोल में कांग्रेस और आप के बीच कांटे की टक्कर बताई जा रही थी लेकिन रुझानों में कांग्रेस एकतरफा बढ़त बनाए हुए है. कांग्रेस को रुझानों में बहुमत मिल चुका है. कांग्रेस फिलहाल 65, आम आदमी पार्टी 26 जबकि अकालीदल गठबंधन 22 सीटों पर आगे है.

हालांकि पार्टी पहली बार मैदान में थी और शानदार प्रदर्शन की उम्मीद कर रही थी. जानकारों का कहना है कि पंजाब चुनाव के नतीजे आम आदमी पार्टी की अपेक्षा के अनुरूप भले ही न हों लेकिन पार्टी की सियासी पहुंच बढ़ी है. पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का कद निश्चित रूप से बढ़ेगा. पार्टी ने दिल्ली के अलावा दूसरे राज्य में भी पहली बार ठीक-ठाक उपस्थिति दर्ज कराई है.

दिल्ली में जश्न फीका हुआ
पंजाब चुनाव के नतीजों के बीच दिल्ली में अरविंद केजरीवाल के आवास को कार्यकर्ताओं ने सजाया है. हालांकि परिणाम अपेक्षित न आने से जश्न फीका रहा. आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "यह हमारे पहला अनुभव है. अब हमें देखना है कि हमसे कहां चूक हुई. हम राजनीति में नए हैं. हम नंबर गेम को बहुत अच्छी तरह से नहीं समझते. हम कठिन मेहनत में विश्वास करते है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com