UP elections 2017 Fifth Phase: बसपा के सबसे ज्यादा 'दागी', बीजेपी के अजय प्रताप सिंह सबसे धनी प्रत्याशी

UP elections 2017 Fifth Phase: बसपा के सबसे ज्यादा 'दागी', बीजेपी के अजय प्रताप सिंह सबसे धनी प्रत्याशी

उत्तर प्रदेश में पांचवे चरण के विधानसभा चुनाव में कुल 168 करोड़पति उम्मीदवार मैदान में हैं. पांचवे चरण के चुनाव के लिए प्रचार करते बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह.

खास बातें

  • पांचवें चरण में 43 महिला उम्मीदवार भी मैदान में हैं.
  • 49 करोड़ के मालिक बीजेपी के अजय प्रताप सिंह सबसे धनी उम्मीदवार.
  • आपराधिक मामलों में मैदान में बीएसपी के 23 उम्मीदवार.
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में सोमवार को होने वाले पांचवे चरण के विधानसभा चुनाव में कुल 168 करोड़पति उम्मीदवार मैदान में हैं जबकि 117 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले होने की घोषणा की है. यूपी इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म (एडीआर) ने 75 राजनीतिक दलों से 617 में से 612 उम्मीदवारों के हलफनामे का विश्लेषण कर यह दावा किया है. छह राष्ट्रीय पार्टियों, चार राज्य स्तरीय पार्टियों, 65 गैर मान्यता प्राप्त पार्टियों के उम्मीदवार और 220 निर्दलीय उम्मीदवार इनमें शामिल हैं. ये लोग 27 फरवरी को होने जा रहे पांचवें चरण के चुनाव के लिए मैदान में हैं. पांचवें चरण में 43 महिला उम्मीदवार भी मैदान में हैं.

बसपा के सबसे ज्यादा करोड़पति उम्मीदवार
रिपोर्ट के मुताबिक 612 उम्मीदवारों में 168 उम्मीदवार (27 फीसदी) करोड़पति हैं. दिल्ली स्थित एडीआर की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक पार्टीवार करोड़पति उम्मीदवारों में बसपा के 51 में 43, बीजेपी के 51 में 38, सपा के 42 में 32, कांग्रेस के 14 में सात, रालोद के 30 में नौ और 220 निर्दलीय उम्मीदवारों में 14 उम्मीदवारों ने अपनी एक करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति घोषित की है.

बीजेपी अजय प्रताप सिंह के पास सबसे ज्यादा पैसे
पांचवें चरण में चुनाव लड़ रहे तीन सबसे धनी उम्मीदवारों में 49 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति वाले अजय प्रताप सिंह (बीजेपी), 36 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति वाली अमीता सिंह (कांग्रेस) और 32 करोड़ की संपत्ति वाले मयंकेश्वर शरण सिंह (बीजेपी) शामिल हैं.

बीएसपी के सबसे ज्यादा 'दागी' प्रत्याशी
कुल 156 उम्मीदवारों ने अपने पैन कार्ड की घोषणा नहीं की है. 365 उम्मीदवारों ने आयकर ब्योरा नहीं दिया है. एडीआर के मुताबिक 612 में 117 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले होने की घोषणा की है. 96 उम्मीदवारों ने गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं, जिनमें हत्या, हत्या की कोशिश, अपहरण, महिलाओं के खिलाफ अपराध आदि शामिल हैं.

आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवारों में बीजेपी से 21, बसपा से 23, रालोद से आठ, सपा से 17 और कांग्रेस से तीन तथा 19 निर्दलीय उम्मीदवार हैं.

Newsbeep

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि 429 उम्मीदवारों ने अपनी उम्र 25 से 50 के बीच, जकि 181 उम्मीदवारों ने 51 से 80 साल के बीच घोषित की है.
इनपुट: भाषा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com