NDTV Khabar

...जब प्रधानमंत्री मोदी ने पूछा - मेरी रक्षा कौन करेगा? भीड़ बोली - हम करेंगे, हम करेंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
...जब प्रधानमंत्री मोदी ने पूछा - मेरी रक्षा कौन करेगा? भीड़ बोली - हम करेंगे, हम करेंगे

फतेहपुर रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल-अखिलेश के गठबंधन पर जमकर धावा बोला....

खास बातें

  1. फतेहपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देखने के लिए युवाओं की भारी भीड़
  2. प्रधानमंत्री मोदी के निशाने पर रहा राहुल-अखिलेश का गठबंधन
  3. एसपी-कांग्रेस गठबंधन को डूबता जहाज करार दिया
फतेहपुर:

फतेहपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देखने के लिए युवाओं की भारी भीड़ उमड़ी थी. लगभग हर किसी के पास सेलफोन था. हर कोई सेल्फी लेना चाहता था. धूप भी तेज थी. बार-बार युवा अपनी कुर्सियों पर खड़े होते रहे. पीएम मोदी के हेलिकॉप्टर का इंतजार करते रहे. ये नजारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फतेहुपुर रैली का था. जैसे ही हेलिकॉप्टर ने रैली के पास नीचे उतरने के लिए चक्कर काटने शुरू किए युवाओं में पीएम मोदी की एक झलक को कैमरे में कैद करने की होड़ लग गई. हर कोई अपनी-अपनी कुर्सियों पर चढ़कर चिल्लाने लगा - "मोदी, मोदी"

 
pms helicopter arrives fatehpur
हेलिकॉप्टर नजर आते ही लोग कुर्सियों पर चढ़कर "मोदी-मोदी" चिल्लाने लगे...
टिप्पणियां

प्रधानमंत्री मोदी ने करीब एक घंटे तक भाषण दिया. अखिलेश पर निशाना साधते हुए कहा, "सपा पहले कहती थी कि किसी से समझौता नहीं होगा. 2/3 बहुमत से जीतेंगे. फिर दोनों लोग मिल गए और फिर कहने लगे कि बहुमत मिल जाएगा. लेकिन आज मतदान के बाद अखिलेश यादव का चेहरा लटका हुआ था. मैंने सुना कि वह कर रहे थे कि सपा सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरेगी. क्या हुआ भैया? हम अभी केवल तीसरे चरण में हैं लेकिन आप लोगों को देखकर ऐसा लगता है कि आपके हौसले पस्त हो गए हैं." उन्होंने एसपी-कांग्रेस गठबंधन को डूबता जहाज करार दिया. कहा कि दोनों डूबते दलों ने एक-दूसरे का हाथ पकड़ लिया है.
 
राहुल गांधी और अखिलेश यादव के गठबंधन पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा, " पहले ही दिन रथ पर जब दोनों निकले तो रास्तों पर तार मिले. तारों के बीच में कांग्रेस उपाध्यक्ष डर रहे थे. वो झुक रहे थे. लेकिन अखिलेश जी नहीं डर रहे थे क्योंकि उन्हें पता था कि तार है बिजली नहीं है." प्रधानमंत्री मोदी की इस चुटकी लोग हंस पड़े.  धूप और गर्मी के बावजूद लोग डटे रहे. प्रधानमंत्री मोदी ने भी भीड़ का धन्यवाद कुछ इस तरह से करके आशीर्वाद लिया,  "आपका प्यार मेरे सिर आंखों पर."  

 
modi rally fatehpur
पीएम मोदी की एक झलक को कैमरे में कैद करने की होड़ लग गई.

उन्होंने कहा कि गांव में अगर कब्रिस्तान बनता है तो शमशान भी बनना चाहिए. रमजान में बिजली मिलती है तो दिवाली पर भी बिजली मिलनी चाहिए. होली पर बिजली मिलती है तो ईद पर भी बिजली मिलनी चाहिए. जाति धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं होना चाहिए. ऊंच नीच नहीं होना चाहिए.
 
सस्ती दवाओं और यरिया की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग कालाबाजारी करते थे, उनका धंधा चौपट हो गया है. क्या वे मुझे ऐसी ही छोड़ देंगे? मेरी रक्षा कौन करेगा?  भीड़ में कुछ युवाओं ने हाथ ऊपर उठाते हुए जोर से कहा, "हम करेंगे, हम करेंगे" नोटबंदी पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि धन्ना सेठों को ही इससे सबसे ज्यादा परेशानी हुई है.  अब वे मुझे हराने में लगे हैं. ऐसे में मेरी रक्षा कौन करेगा? भीड़ ने जवाब दिया - हम करेंगे, हम करेंगे. हालांकि प्रधानमंत्री मोदी ने मायावती के खिलाफ कुछ नहीं कहा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement