NDTV Khabar

तो तेलंगाना रैली में सोनिया गांधी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे चंद्रबाबू नायडू

तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू नायडू 23 नवम्बर को तेलंगाना में होने वाली रैली में कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तो तेलंगाना रैली में सोनिया गांधी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे चंद्रबाबू नायडू

चंद्रबाबू नायडू सोनिया गांधी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे

हैदराबाद:

तेलंगाना में विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोरों पर है. राज्य में वोटरों को लुभाने के लिए चुनावी सभा का दौर भी जारी है. मगर उन अटकलों को विराम लग गया है, जिनमें कहा जा रहा था कि तेलंगाना की रैली में सोनिया गांधी के साथ आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू मंच साझा करेंगे. कांग्रेस के राज्य प्रभारी आर सी खुंटिया ने बुधवार को कहा कि तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू नायडू 23 नवम्बर को तेलंगाना में होने वाली रैली में कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे. अन्य दलों के साथ दोनों पार्टियों ने गठबंधन बनाया है. इसके बाद आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और सोनिया गांधी के मेडचल जनसभा में एक मंच पर आने की अटकलें थीं. इस बयान के बाद इन अटकलों पर विराम लग गया. 

चंद्रबाबू नायडू, ममता बनर्जी ने विपक्ष को बताया एकजुट, 'महागठबंधन' के चेहरे को लेकर कही यह बात...  


कांग्रेस ने पिछले महीने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के खिलाफ तेदेपा और तेलंगाना जन समिति, भाकपा के साथ गठबंधन किया है. इसे 'प्रजकुट्टमी' (जन गठबंधन) का नाम दिया गया है. बता दें कि राज्य में विधानसभा चुनाव सात दिसंबर को होने हैं. 

ममता बनर्जी और चंद्रबाबू पर अरुण जेटली का हमला,जिनके पास छिपाने के लिए बहुत कुछ वही अपने राज्य में नहीं घुसने देते सीबीआई

खुंटिया ने बताया कि राहुल गांधी के 28 और 29 नवम्बर को राज्य के दौरे के दौरान नायडू कांग्रेस के साथ प्रचार करेंगे. उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू नायडू सभी में नहीं लेकिन कुछ में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मंच साझा करेंगे. खुंटिया ने कहा कि कांग्रेस 23 नवम्बर को राज्य में घोषणापत्र जारी करने की योजना बना रही है. 

आंध्र और प.बंगाल सरकार ने राज्य में जांच के लिए सीबीआई को दी रजामंदी वापस ली, 10 बड़ी बातें 

टिप्पणियां

दरअसल, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू मोदी सरकार के खिलाफ पूरे देश में विपक्षी एकता की कवायद में जुटे हैं. यही वजह है कि बीते दिनों दिल्ली में उन्होंने न सिर्फ कांग्रेस अधअय राहुल गांधी से मुलाकात की, बल्कि राकांपा अध्यक्ष शरद पवार और नेशनल कॉन्फ्रेंस के सुप्रीमो फारूक अब्दुल्ला से भी मुलाकात कर मजबूत महागठबंधन की नीव रखने की कोशिश की थी. 

VIDEO: 2019 का सेमीफाइनल: महागठबंधन की पहल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement