NDTV Khabar

छत्तीसगढ़: अजीत जोगी बोले- बहुमत नहीं मिला तो BJP से मिला सकते हैं हाथ, राजनीति में कुछ भी संभव

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के नेता जोगी ने कहा कि अगर चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलता है तो वह भारतीय जनता पार्टी के साथ हाथ मिला सकते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
छत्तीसगढ़: अजीत जोगी बोले- बहुमत नहीं मिला तो BJP से मिला सकते हैं हाथ, राजनीति में कुछ भी संभव

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. जोगी बोले- राजनीति में कुछ भी संभव.
  2. चुनावी मैदान में बसपा के साथ उतरे हैं.
  3. दूसरे चरण के चुनाव 20 नवंबर को.
नई दिल्ली:

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के साथ उतरे अजीत जोगी ने दूसरे चरण के चुनाव से पहले बड़ा बयान दिया है. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के नेता जोगी ने कहा कि अगर चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलता है तो वह भारतीय जनता पार्टी के साथ हाथ मिला सकते हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि राजनीति में किसी भी संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता. बता दें, छत्तीसगढ़ में पहले चरण के चुनाव हो चुके हैं और मतदान का दूसरा चरण 20 नवंबर को है. मतगणना 11 दिसंबर को होगी.

90 सीटों वाली छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में अजीत जोगी बहुजन समाज पार्टी के साथ मिलकर चुनावी मैदान में उतरे हैं. इस गठबंधन में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) भी शामिल है. बसपा ने 33 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. वहीं जोगी की पार्टी ने अपने 55 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है. इसके अलावा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी को सुकमा और दंतेवाड़ा सीट दी गई है. 

क्या रमन सिंह चौथी बार मुख्यमंत्री बन पाएंगे?


गौरतलब है कि मध्य प्रदेश से छत्तीसगढ़ अलग होने के बाद अजीत जोगी राज्य के पहले मुख्यमंत्री बने थे. कांग्रेस की ओर से उन्होंने साल 2000 से 2003 तक राज्य का नेतृत्व किया. उसके बाद करीब 15 वर्ष से रमन सिंह राज्य के मुख्यमंत्री हैं. जोगी ने 2016 में कांग्रेस छोड़कर अपनी पार्टी बनाई थी. 

राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ सरकार पर लगाया आरोप, कहा- राज्य में बुरी हालत में हैं किसान

पहले चरण में 18 सीटों पर 70 फीसद मतदान
छत्तीसगढ़ में भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पहले चरण का मतदान 12 नवंबर को हो चुका है. पहले चरण में कुल 70 फीसदी वोटिंग हुई. कोंडागांव में 61.47%, केशकाल में 63.51%, कांकेर में 62%, बस्‍तर में 58%, दंतेवाड़ा 49%, खैरागढ़ में 70.14%, डोंगरगढ़ में 71% और खुज्‍जी में 72% फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. पहले चरण में नक्सल प्रभावित आठ जिलों के मतदाताओं ने मुख्यमंत्री रमन सिंह समेत 190 उम्मीदवारों के भाग्य ईवीएम में बंद कर दिया.

टिप्पणियां

छत्तीसगढ़ में चुनाव प्रभावित करने के लिए माओवादियों ने कैसे बिछाया है 'मौत का जाल', देखें- VIDEO

अजित जोगी बोले- BJP से गठबंधन संभव



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement