मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री पद के लिए 'युवा चेहरे' की तुलना में 'तजुर्बे ' को तरजीह दे सकती है कांग्रेस : सूत्र

सूत्रों की मानें तो पार्टी कमलनाथ मुख्यमंत्री बना सकती है. बता दें कि मध्यप्रदेश में पार्टी के सरकार बनाने की स्थिति को देखते हुए कल रात कमलनाथ पार्टी के अन्य नेताओं के साथ मिलकर राज्यपाल से मिलने गए थे.

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री पद के लिए 'युवा चेहरे' की तुलना में 'तजुर्बे ' को तरजीह दे सकती है कांग्रेस : सूत्र

आज हो सकता है सीएम के नाम का ऐलान

खास बातें

  • राहुल गांधी कर सकते हैं आज ऐलान
  • विधायक दल की बैठक में नहीं हुआ फैसला
  • एमपी में पार्टी को मिली है 114 सीटें
भोपाल:

मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री (CM of Madhya Pradesh) कौन होगा यह आम जनता के साथ-साथ कांग्रेस पार्टी के लिए भी एक बड़ा सवाल बनकर सामने आया है. पार्टी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पार्टी युवा चेहरे ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia ) की तुलना में वरिष्ठ नेता कमलनाथ के तजुर्बे को ज्यादा तरजीह दे सकती है. हालांकि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा इसका निर्णय पूरी तरह से अब पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पर छोड़ दिया गया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक के बाद एक ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि हमनें  पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक करने के बाद यह तय किया है कि सूबे के नए मुख्यमंत्री के नाम का चयन हाईकमान के द्वारा किया जाएगा. वो जो भी फैसला लेंगे हम उसे स्वीकार करेंगे.

यह भी पढ़ें: Elections Results 2018: PM मोदी ने जनादेश को स्वीकार किया, कांग्रेस को जीत पर दी बधाई

सूत्रों की मानें तो पार्टी कमलनाथ मुख्यमंत्री बना सकती है. बता दें कि मध्यप्रदेश में पार्टी के सरकार बनाने की स्थिति को देखते हुए कल रात कमलनाथ पार्टी के अन्य नेताओं के साथ मिलकर राज्यपाल से मिलने गए थे. जबकि बुधवार सुबह शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे के बाद अकेले ही उनसे मिलने पहुंच गए.
 

विधानसभा चुनाव परिणाम 2018 : मध्य प्रदेश


जानकार इसे एक संकेत के तौर पर भी देख रहे हैं. गौरतलब है कि राहुल गांधी ने तीनों राज्य में किसे मुख्यमंत्री बनाया जाए इसे लेकर अपने कार्यकर्ताओं से उनकी पसंद पूछी है. उन्होंने बुधवार को एक ऑडियो टेप भी जारी किया. इस टेप में वह अपने कार्यकर्ताओं से पूछ रहे हैं कि आखिर उनके हिसाब से तीनों राज्यों में किसे मुख्यमंत्री बनाना चाहिए.

यह भी पढ़ें: बीजेपी के 'चाणक्य' अमित शाह को ऐसे मिला 'चौथा झटका'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ऑडियो टेप में राहुल गांधी अपने कार्यकर्ताओं को आश्वासन दे रहे हैं कि वह बगैर किसी हिचक के उन्हें अपनी पसंद बताएं. वह कार्यकर्ताओं से कह रहे हैं कि आप यह न सोचें की मैं आपके नाम को जाहिर करूंगा, आपकी पहचान गुप्त रखी जाएगी और इसकी जानकारी सिर्फ मुझे होगी कि आपने किसे अपनी पसंद बताया है. बता दें कि कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में कुल 114 सीटें जीतीं हैं. जबकि यहां मुख्यमंत्री पद के दावेदार के तौर पर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम सबसे ऊपर चल रहा है. वहीं राजस्थान में पार्टी को 99 सीटें मिली हैं. यहां मुख्यमंत्री की रेस में वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत और युवा नेता सचिन पायलट हैं. पार्टी सूत्रों के अनुसार पार्टी यह निर्णय अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर करना चाहती है. 

VIDEO: शिवराज सिंह ने की चुनाव आयोग से शिकायत.