NDTV Khabar

कर्नाटक के 'रण' में PM मोदी, वो 10 बयान जो बने सुर्खियां

कर्नाटक का 'रण' निर्णायक मोड़ पर है. इस चुनाव में पीएम मोदी ने ताबड़तोड़ सभाएं की और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक के 'रण' में PM मोदी, वो 10 बयान जो बने सुर्खियां

पीएम नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली: कर्नाटक का 'रण' निर्णायक मोड़ पर है. इस चुनाव में पीएम मोदी ने ताबड़तोड़ सभाएं की और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. किसी सभा में कांग्रेस को बीमारी से पीड़ित बताया तो कहीं मुधोल कुत्तों से सीख लेने की सलाह दी. आइये आपको बताते हैं चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी के वो 10 बयान जो सुर्खियां बने और जिनपर विवाद हुआ...

1- कांग्रेस 6 बीमारियों से पीड़ित, फैला रही वायरस 
कर्नाटक के बांगरपेट में चुनावी सभा के दौरान पीएम ने कहा कि कांग्रेस छह बीमारियों से पीड़ित है, यह जहां जाती है वहां इस बीमारी का वायरस फैला देती है और यह लोकतंत्र और संविधान की मूल भावना को नुकसान पहुंचा रही है.. पीएम ने कल्चर (संस्कृति), कॉम्यूनिलिज्म (सांप्रदायिकता) , कास्टिजम (जातिवाद), क्राइम (अपराध), करप्शन (भ्रष्टाचार), कॉन्ट्रेक्ट (ठेकेदारी) के रूप में 6 बीमारियों को गिनाया. 

2- वे नामदार हैं और हम कामदार, हमारी क्या हैसियत 
चामराजनगर जिले के सांथेमरहल्ली में पीएम ने नया चुनावी नारा "नामदार बनाम कामदार" दिया. इस नारे के जरिये उन्होंने खुद को 'कामदार' यानी मेहनकश लोगों के साथ खड़ा बताया. तो दूसरी तरफ विपक्षी कांग्रेस और राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्हें 'नामदार' की संज्ञा दे डाली. 'नामदार' यानी बड़े नाम वाला. पीएम मोदी ने कहा था कि, वह नामदार हैं और हम कामदारों की क्‍या हैसियत. हम अच्‍छे कपड़े भी नहीं पहन सकते तो आपके साथ कहां बैठ सकते हैं. 

यह भी पढ़ें ​: PM मोदी ने राहुल गांधी को दिया चैलेंज, कहा- कर्नाटक की उपलब्धियों पर किसी भी भाषा में बिना कागज के बोल कर दिखाएं, 5 बातें

3- जो सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए, वे गरीबों का दर्द क्या जानें  
कर्नाटक के कोप्पल में पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. कहा था कि, मैंने जब लाल किले से शौचालय की बात कही, तो लोगों ने मेरा मजाक बनाया. लेकिन सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए नामदार को गरीब मां की तकलीफ का कैसे पता चलेगा. हम गरीब लोग हैं और गरीबों के लिए जीवन खपाने वाले लोग हैं. मैंने मेरी मां को बचपन में  लकड़ी का चूल्हा पर खाना बनाते देखा है. पूरा घर काला हो जाता था, हम लोग खांसने लगते थे. मेरी मां की हालत भी खराब हो जाती थी. उन्हें गरीबों का दर्द नहीं पता है. 

4- सुलतानों की जयंती मना रही कांग्रेस, महापुरुषों को भूली
कर्नाटक के चित्रदुर्ग में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि,  कांग्रेस ऐसी पार्टी है, जिसे वोट बैंक के लिए इतिहास और भावनाओं को तोड़ने-मरोड़ने की आदत हो गई है. वीरा मड़करी को भूलकर वे सुल्तानों की जयंती मनाने में लगे हैं. चित्रदुर्ग के लोगों का अपमान किया है. लोगों को बांट रहे हैं. यही पार्टी की फितरत है. 

यह भी पढ़ें ​: बंगारपेट में पीएम मोदी की हुंकार, मनमोहन सिंह का रिमोट मैडम के पास था, मोदी का सवा सौ करोड़ जनता के पास

5- चुनाव नतीजों के बाद हो जाएगी 'पीपीपी कांग्रेस' 
गडग में आयोजित रैली में  भी  पीएम मोदी  ने अपने चिरपरिचित अंदाज में कांग्रेस के लिए नये शब्दों को खोज की. उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि चुनाव नतीजों के बाद भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस घटकर पीपीपी कांग्रेस यानी 'पंजाब , पुडुचेरी और परिवार कांग्रेस' रह जाएगी. उन्होंने भविष्यवाणी की कि राज्य की सत्तारुढ़ पार्टी इस चुनाव में मटियामेट हो जाएगी. 

6- 'भारत के टुकडे होंगे' जैसे नारे लगाने वालों को दिया समर्थन
कर्नाटक के जामखंडी में सभा के दौरान पीएम ने कहा कि कांग्रेस में इतनी गिरावट आ गयी है कि पार्टी के एक नेता 'भारत के टुकडे होंगे' जैसे नारे लगाने वाले लोगों के बीच चले गए और उन्हें समर्थन दिया. उन्हें कम से कम उत्तर कर्नाटक के मुधोल कुत्तों से सीख लेनी चाहिए जिन्हें भारतीय सेना में शामिल किया गया है. उनसे वफादारी भी सीखनी चाहिए. 

7- इंदिरा के समय से 'गरीबी' के नाम पर मजाक 
 कर्नाटक के टुमकुर में पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि  इंदिरा गांधी के जमाने से कांग्रेस गरीब-गरीब की माला जप रही है और चुनाव जीतने के खेल खेलती रही है. उसको न तो किसानों की परवाह थी और न ही गरीबों की. लोग अब कांग्रेस से ऊब चुके हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस गरीब..गरीब...गरीब कहती रही और आज तक इस नारे से कुछ भी निकला. वे भारत के गरीबों में कोई सुधार नहीं ला पाये. 

यह भी पढ़ें ​: कोप्पल में बोले पीएम मोदी, सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए 'नामदार' को गरीब औरत की तकलीफ का पता कैसे चल सकता है

8- बंगलुरु को कंप्यूटर से 'क्राइम कैपिटल' बना दिया
कर्नाटक में चुनावी सभा के दौरान पीएम ने राज्य की कांग्रेस सरकार को भी निशाने पर लिया. कहा कि हमारे देश के नौजवानों और कर्नाटक के नौजवानों ने हमारे बंगलुरु की पूरे विश्व में कंप्यूटर कैपिटल के रूप में पहचान बनाई थी, लेकिन वर्तमान सरकार ने इसे क्राइम कैपिटल में बदल दिया है. उन्होंने कहा कि बंगलुरु की वर्षों से गार्डन सिटी के रूप में पहचान बनाई थी, लेकिन ऐसे लोग सरकार में बैठे हैं जो बंगलुरु को गार्डन सिटी से गार्बेज सिटी बनाने में लगे हैं. 

9- राहुल गांधी अहंकारी, मर्यादा का ख्याल नहीं 
पीएम ने राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा था कि उनका अहंकार सातवें आसमान पर पहुंच गया है. यह तो जीवन की शुरुआत ही है. अगर वह अभी से ऐसा कर रहे हैं तो आने वाले दिन कितने बुरे होंगे यह आपको उनकी हरकतों से पता चल जाएगा.' प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे अहंकारी नेताओं के साथ कांग्रेस पार्टी लोकतंत्र के लिए एक 'बड़ा खतरा' है. राजनीति में मतभेद हो सकते हैं किंतु सार्वजनिक जीवन में मर्यादा होती है. 

यह भी पढ़ें ​:Karnataka Election 2018 : चुनावों में भाजपा के 'कैंपेन फेस' पीएम मोदी

टिप्पणियां
10- राहुल 15 मिनट बिना कागज के बोलकर दिखाएं 
पीएम ने संसद में 15 मिनट बोलने की राहुल की चुनौती का भी जवाब दिया. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने मुझे चुनौती दी थी कि अगर मैं संसद में 15 मिनट बोलूंगा तो मोदी जी बैठ भी नहीं पाएंगे. उन्‍होंने कहा कि वे 15 मिनट बोलेंगे ये भी एक बड़ी बात है. पीएम ने राहुल गांधी को चैलेंज करते हुए कहा कि अगली बार जब 15 मिनट बोले तो करीब 5 बार श्रीमान विश्वसरैया का नाम भी ले लेना.

VIDEO: पीएम मोदी ने कहा, कांग्रेस की नीतियों के कारण ही आज किसान परेशान



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement