NDTV Khabar

राहुल गांधी की चुनौती पर पीएम मोदी का जवाब- वह 15 मिनट बोलते हैं तो ये भी बड़ी बात होगी

कर्नाटक के सांथेमरहल्ली में कन्नड़ भाषा में भाषण की शुरुआत करते हुए उन्होंने यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह पर भी निशाना साधा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी की चुनौती पर पीएम मोदी का जवाब-  वह 15 मिनट बोलते हैं तो ये भी बड़ी बात होगी

पीएम मोदी ने आज कर्नाटक में पहली चुनावी रैली को संबोधित किया है.

खास बातें

  1. कर्नाटक की रैली में पीएम मोदी का राहुल को जवाब
  2. 15 मिनट बोलने की बात पर जवाब
  3. वह 15 मिनट बोलेंगे तो बड़ी बात होगी
बेंगलुरु: कर्नाटक में पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की उस चुनौती पर जवाब दिया है जिसमें उन्होंने कहा था कि संसद में अगर 15 मिनट बोलने दिया जाए तो पीएम मोदी ठहर नहीं पाएंगे. पीएम मोदी ने कहा कि अति उत्साह में राहुल मर्यादा तोड़ जाते हैं. उन्होंने कहा कि अगर राहुल गांधी 15 मिनट बोलते हैं तो यह बड़ी बात होगी. वंदे मातरम पर भी राहुल गांधी को ज्ञान नहीं है. पीएम मोदी ने उल्टा राहुल गांधी को चुनौती देते हुए कहा कि  '..'...आप नामदार हैं हम तो कामदार हैं. हम तो आपके पास बैठ भी नहीं सकते लेकिन नामदार. आपकी बातों से हमें चोट नहीं पहुंची है क्‍योंकि हम तो सदियों से ऐसी बातें सहते आए हैं.'

राहुल गांधी के इन 7 अहम सवालों पर पीएम मोदी की चुप्पी, आखिर क्या है वजह

पीएम मोदी ने राहुल गांधी को ललकारते हुए कहा, '...मोदी जी को छोड़ो नामदार. इस कामदार को छोड़ो. आप जिस भाषा में बोल सकते हैं, अंग्रेजी में बोल सकते हैं तो अंग्रेजी में, हिंदी में बोल सकते हैं तो हिंदी में या अपनी माता जी की भाषा में 15 मिनट यहां बोले और उस भाषण में पांच बार विश्‍वेश्‍वरय्या का नाम ले लें.' 

आज से मिशन कर्नाटक पर पीएम मोदी, सिर्फ़ पहली रैली में साथ नजर आएंगे येदियुरप्पा, बाक़ी में नहीं

गौरतलब है कि  राहुल गांधी ने कई मौके पर कहा था कि अगर संसद में मुझे 15 मिनट बोलने का मौका दिया जाए तो मोदी जी उसका जवाब नहीं दे पाएंगे. मंगलवार को जनसभा में पीएम मोदी ने पहली बार इसका जवाब दिया और कहा कि यही बड़ी बात है कि ये बोलना चाहते हैं.    ​

कर्नाटक चुनाव : पीएम मोदी के सामने इस बार कोई नेता नहीं, एक वजह बन सकती है सबसे बड़ी चुनौती, 10 बड़ी बातें

टिप्पणियां
कर्नाटक के सांथेमरहल्ली में कन्नड़ भाषा में भाषण की शुरुआत करते हुए उन्होंने यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह पर भी निशाना साधा. मोदी ने कहा कि मनमोहन सिंह ने कहा था हर गांव में बिजली पहुंचाएंगें लेकिन आपकी माता जी सोनिया ने कहा एक कदम आगे जाकर 2009 तक हर घर में बिजली पहुंचाने का वादा किया था लेकिन अपना वादा पूरा क्‍यों नहीं कर सके.  

वीडियो : कर्नाटक के मिशन में आज से पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि जिन गांव ने बिजली नहीं देखी तो उन गांवों में बिजली पहुंचाने का काम हमारी सरकार ने किया है. उन्‍होंने बताया कि 18000 गांव में बिजली पहुंची है. मणिपुर के एक गांव आखिरी गांव बना जहां बिजली पहुंचाने का काम पूरा हुआ. उन्‍होंने कहा कि मजदूरों के मेहनत से बिजली पहुंची हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement