NDTV Khabar

भ्रष्टाचार के दीमक को साफ करने के लिए नोटबंदी जैसी कड़वी दवा का उपयोग जरुरी था: PM मोदी

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh assembly Election 2018) में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) की ताबड़तोड़ रैली जारी है.

4.5K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भ्रष्टाचार के दीमक को साफ करने के लिए नोटबंदी जैसी कड़वी दवा का उपयोग जरुरी था: PM मोदी

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

झाबुआ:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh assembly Election 2018) में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) की ताबड़तोड़ रैली जारी है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नोटबंदी को जायज ठहराते हुए मंगलवार को कहा कि देश से भ्रष्टाचार के दीमक को साफ करने और बैंकिंग सिस्टम में पैसा वापस लाने के लिये नोटबंदी जैसी कड़वी दवा का उपयोग करना जरुरी था. मध्यप्रदेश में 28 नंवबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव के सिलसिले में प्रदेश के आदिवासी बहुल अंचल झाबुआ के चुनावी दौरे पर आमसभा को सम्बोधित कर रहे प्रधानमंत्री ने कहा, ‘इस देश को भ्रष्टाचार ने बर्बाद किया है. हर नीचे स्तर पर आपसे कोई न कोई भ्रष्टाचार के चलते पैसा मांगता है कि नहीं? क्या देश को इस बीमारी से बाहर निकालना चाहिये, कि नहीं ?'    

राहुल गांधी बोले- दिल्ली में 'चौकीदार ही चोर है' नामक क्राइम थ्रिलर चल रहा है, मंत्री वसूली में लगा है


पीएम मोदी ने कहा कि ‘जब दीमक लगती है तो सबसे जहरीली दवा डालनी पड़ती है. हिन्दुस्तान में कांग्रेस के राज से ऐसा भ्रष्टाचार फैला कि मुझे नोटबंदी जैसी कड़वी दवा का उपयोग करना पड़ा, ताकि गरीबों को लूट कर ले जाया गया पैसा देश के खजाने में वापस आये. वर्ना हम तो अखबार में तस्वीरें देखते हैं कि बिस्तर के नीचे नोट पड़े हैं, बोरे भर भर नोट पड़े हैं. आज... ये मोदी की ताकत देखिये कि पाई-पाई बैंकों में जमा कराने को मजबूर कर दिया.' उन्होंने आगे कहा कि गरीबों के लिये जो घर बन रहे हैं, पुल बन रहे हैं, गरीबों के कल्याण की योजनाएं बन रही हैं, उसमें लग रहा पैसा पहले बिस्तर के नीचे छिपाया गया था. वह बाहर निकला तो गरीबों के काम आने लगा और इससे उनको (कांग्रेस) परेशानी है.

नक्सल पत्र: दिग्विजय ने PM मोदी व राजनाथ को कार्रवाई की चुनौती दी, बोले- उनसे ना कभी डरा और ना डरूंगा

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने चार साल में प्रधानमंत्री मुद्रा रिण योजना के तहत, बिना गारंटी के अब तक 14 करोड़ लोगों को ऋण दिये हैं. इनमें से 70 फीसद लोगों को पहली बार ऋण दिया गया है. उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस के शासनकाल में बीते 55 साल में 1500 स्कूल थे जबकि 15 साल के भाजपा के शासनकाल में 4000 स्कूल बनाये गये. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘ हमारा मंत्र बालक बालिका को पढ़ाई, युवाओं को कमाई, किसानों को सिंचाई, बुजुर्ग को दवाई है.'    

अधूरे KMP एक्सप्रेसवे को 'जबरन' खोलकर PM नरेंद्र मोदी ने जनता की ज़िन्दगी को खतरे में डाला : कांग्रेस

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि चार माह पहले कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने किसानों को ऋण माफी का वादा किया था लेकिन इसके बजाय वहां किसानों को रिण का पैसा जमा करने के लिये नोटिस या जेल का वारंट जारी किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय दुगनी करने के लक्ष्य पर काम कर रही है. मेरा सपना है कि वर्ष 2022 तक सबके पास पक्का घर हो. हमने अब तक 1.25 करोड़ गरीब लोगों को पक्के घर की चाबी सौंप दी है. (इनपुट भाषा से)

VIDEO: पन्ना में BJP-कांग्रेस में सीधी टक्कर


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement