NDTV Khabar

भोपाल में 30 सितंबर को गैर बीजेपी दलों की बैठक, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस नहीं होगी शामिल

बैठक में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस को आमंत्रित न करने के सवाल पर यादव ने कहा, "हमारा उद्देश्य हरहाल में भाजपा को रोकना है, और हम इसके लिए कांग्रेस के साथ हमेशा सहयोग करने के लिए तैयार हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भोपाल में 30 सितंबर को गैर बीजेपी दलों की बैठक, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस नहीं होगी शामिल

फाइल फोटो

भोपाल: आगामी मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर विपक्षी दलों ने सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ लामबंदी तेज कर दी है. इसी क्रम में 30 सितंबर को इन दलों की भोपाल में एक बैठक होने जा रही है. लेकिन इस बैठक मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस शामिल नहीं हो रही है. लोकतांत्रिक अभियान के संयोजक गोविंद यादव ने रविवार को यहां जारी एक बयान में कहा, "संवैधानिक लोकतंत्र बचाने एवं वैकल्पिक राजनीति के लिए आगामी राज्य विधानसभा, लोकसभा चुनावों के मद्देनजर गैर भाजपा दलों का महागठबंधन बनाने के लिए विभिन्न राजनीतिक दलों की बैठक 30 सितंबर को यहां बुलाई गई है." यादव के अनुसार, बैठक में लोकतांत्रिक जनता दल (लोजद), मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी(भाकपा), बहुजन संघर्ष दल, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, समाजवादी पार्टी (सपा), राष्ट्रीय समानता दल, प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी को आमंत्रित किया गया है. 

नाराज सवर्णों को मनाने में जुटे शिवराज सिंह चौहान, कहा- SC/ST एक्ट में बिना जांच के नहीं होगी गिरफ्तारी

बैठक में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस को आमंत्रित न करने के सवाल पर यादव ने कहा, "हमारा उद्देश्य हरहाल में भाजपा को रोकना है, और हम इसके लिए कांग्रेस के साथ हमेशा सहयोग करने के लिए तैयार हैं. चुनाव से पहले भी और चुनाव के बाद भी. कांग्रेस के साथ बातचीत जारी है." यादव ने बताया कि बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए विपक्षी दलों का महागठबंधन बनाने पर चर्चा की जाएगी और आगामी कार्यक्रम की रूपरेखा तय की जाएगी. 

मध्य प्रदेश : 'राहुल का 18 किलोमीटर लंबा रोड शो और रैली, तस्वीरों में दिख रहा है 'हिंदू कार्ड'

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस इस समय बीएसपी के साथ गठबंधन करने के लिये आतुर है लेकिन बीएसपी सुप्रीमो मायावती ऐलान किया है कि उसके वह सभी सीटों पर अपने प्रत्याशित उतारेंगी और 22 सीटों के लिये उन्होंने नाम का ऐलान भी कर दिया. उनका कहना है कि किसी भी पार्टी के साथ तभी गठबंधन होगा जब सम्मानजनक सीटें दी जाएंगी. 

टिप्पणियां
नाराज सवर्णों को मनाने में जुटे शिवराज सिंह चौहान​
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement