कर्नाटक का जो शख्‍स बीजेपी की लिस्‍ट में 'शहीद', वो आज भी जिंदा

कर्नाटक चुनावों में बीजेपी ने कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाया है कि पांच साल के उनके शासनकाल में 'जिहादी' बलों ने उनके पार्टी के 23 कार्यकर्ताओं की हत्‍या कर की है.

कर्नाटक का जो शख्‍स बीजेपी की लिस्‍ट में 'शहीद', वो आज भी जिंदा

बजरंग दल का कार्यकर्ता अशोक पुजारी

खास बातें

  • BJP का आरोप, पार्टी के 23 कार्यकर्ताओं की हत्‍या कर की गई
  • इस लिस्‍ट में सबसे पहला नाम अशोक पुजारी का है
  • अशोक की हत्‍या 20 सितंबर 2015 को कर दी गई थी, लेकिन वो आज भी जिंदा है
नई दिल्ली:

कर्नाटक चुनावों में बीजेपी ने कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाया है कि पांच साल के उनके शासनकाल में 'जिहादी' बलों ने उनके पार्टी के 23 कार्यकर्ताओं की हत्‍या कर की है. इस मामले में उडुपी से बीजेपी सांसद शोभा करंदलाजे ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर उन 23 लोगों के नाम भेजे थे जिनकी कर्नाटक में हत्‍या की गई. 

कर्नाटक : इस विधानसभा सीट पर जीतती है कांग्रेस या फिर जेडीएस, क्या इस बार BJP तोड़ पायेगी रिकॉर्ड

बीजेपी की इस लिस्‍ट में सबसे पहला नाम अशोक पुजारी का आता है, जिसकी हत्‍या 20 सितंबर 2015 को कर दी गई थी. लेकिन पुजारी आज भी जिंदा है. एनडीटीवी ने पुजारी से उसके गांव जाकर मुलाकात की. पूजारी का गांव उडुपी में है जो मेंगलौर से दो किलोमीटर दूर है. 

पु‍जारी बजरंग दल का कार्यकर्ता और बीजेपी का कहना है उन पर 2015 में छह लोगों ने हमला किया था जो बाइक पर सवार थे. उन्‍होंने पुजारी पर इसलिए हमला किया क्‍यों‍कि वह हिन्‍दूवादी संगठन से जुड़ा हुआ था. उनका कहना था कि आरोपियों ने उनकी पहचान उनके सिर पर बंधे भगवा कपड़े से की जब वह काम से घर लौट रहे थे. पुजारी शादियों में ड्रम बजाने का काम करता है. 

कौन थे जनरल थिमय्या, जिनका जिक्र पीएम मोदी ने कर्नाटक में रैली के दौरान किया था

पुजारी ने बताया कि मैं 15 दिन आईसीयू में रहा और उन्‍होंने सोचा कि मैं मरने वाला हूं लेकिन भगवान का शुक्र है कि मुझे कुछ नहीं हुआ. उन्‍होंने बताया कि शोभा करंदलाजे का फोन उनके पास आया था और स्‍वीकार किया कि गलती से उसका नाम उस लिस्‍ट में चला गया.  लेकिन बीजेपी आज भी दावा करती है कि उसके 23 कार्यकर्ताओं की हत्‍या की गई. कर्नाटक विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि दो दर्जन से ज्‍यादा कर्नाटक में हमारे कार्यकर्ताओं की हत्‍या की गई है. 

मोदी जी का नारा बदल गया, अब ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की जगह ‘बेटी बचाओ बीजेपी के एमएलए से’: राहुल गांधी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वहीं राज्य सरकार ने उन दावों को खारिज कर दिया है, जिसमें कहा गया कि 23 में से 14 कार्यकर्ताओं की मौत में मुस्लिम हमलावरों का कुछ लेना देना नहीं था. उनकी मौत की पीछे निजी दुश्‍मनी और आत्महत्या की वजह रही. वहीं विश्‍व हिन्‍दू परिषद के जिला अध्‍यक्ष जगदीश सेनवा ने एनडीटीवी से कहा कि बीजेपी झूठे दावे नहीं कर रही है. अगर लिस्‍ट में उसका नाम है तो यह बिल्‍कुल सही है. 

VIDEO: अशोक पुजारी की कहानी उसकी जुबानी